सूरत. मशहूर अभिनेत्री और भाजपा नेत्री मौसमी चटर्जी ने यहां एक कार्यक्रम में एक महिला एंकर के परिधानों के लिए कथित रूप से उसकी आलोचना करके विवाद खड़ा कर दिया है. बीते 21 जनवरी को एक होटल में आयोजित इस कार्यक्रम के बाद भाजपा की स्थानीय इकाई का संवाददाता सम्मेलन भी बुलाया गया था. इसलिए चटर्जी द्वारा युवती को दी गई यह सलाह कई समाचार चैनलों के कैमरों में कैद हो गई. जब शर्ट-पैंट पहने हुए महिला एंकर ने अतिथियों का परिचय हॉल में मौजूद मीडियाकर्मियों एव अन्य श्रोताओं से कराया तो चटर्जी ने माइक संभाला और एंकर के परिधान के चयन पर अपनी नाखुशी जताई.

कांग्रेस के टिकट पर 2004 में लोकसभा चुनाव लड़ने के बाद हाल ही में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने वाली मौसमी चटर्जी ने एंकर के कपड़ों पर टिप्पणी की. उन्होंने कहा, ‘‘अगली बार जब आप इस तरह के किसी कार्यक्रम के लिए आएं तो भारतीय परिधान पहनें. हम सभी आधुनिक पहनावा पहनते हैं लेकिन आपको स्थान का ख्याल भी रखना चाहिए.’’ चटर्जी को कहते सुना गया कि, ‘‘हम जींस पहनकर मंदिर नहीं जा सकते.’’ उन्होंने कहा, ‘‘बेहतर होता कि सलवार कमीज पहनें या घाघरा चोली या साड़ी पहनी जाए. हमारी धरोहर को बचाना हमारी जिम्मेदारी है.’’

भाजपा में शामिल हुईं ‘बालिका वधू’, क्या बंगाल में पार्टी इकाई को देगी धार!

चटर्जी ने युवती को दोबारा इस तरह की ‘गलती’ नहीं करने को कहा और यह भी बोला कि वह मां के रूप में उसे यह सलाह दे रही हैं. उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप नाखुश हों तो मुझे माफ करना.’’ जब चटर्जी की इस सलाह पर एक महिला संवाददाता ने आपत्ति जताई तो चटर्जी ने बचाव करते हुए कहा कि आज की युवा पीढ़ी को इस तरह की सलाह की जरूरत है. जब कहा गया कि कोई भाजपा नेता कैसे बता सकता है कि क्या पहना जाए तो उन्होंने यह भी कहा, ‘‘इसे भाजपा से मत जोड़िए. मैं भारतीय नारी के नाते यह कह रही हूं. मुझे अपनी बेटियों को सलाह देने का हक है.’’ आपको बता दें कि चटर्जी इस महीने की शुरुआत में ही भाजपा में शामिल हुई हैं.

(इनपुट – एजेंसी)