जम्मू: भारतीय जनता पार्टी भाजपा के महासचिव राम माधव ने रविवार को उन रपटों को खारिज कर दिया, जिनमें कहा गया था कि उनकी पार्टी जम्मू एवं कश्मीर में जल्द विधानसभा चुनाव कराने के खिलाफ है. माधव ने यहां मीडिया से बातचीत में कहा, ‘फैलाई जा रही उन अफवाहों में कोई सच्चाई नहीं है, जिनमें कहा जा रहा है कि भाजपा जल्द विधानसभा चुनाव के पक्ष में नहीं है.’ Also Read - भाजपा सरकार की न तो नीतियां सही हैं, नीयत, योगी राज में विकास का पहिया थम गया है : अखिलेश

Also Read - एकनाथ खडसे ने भाजपा छोड़ कहा- देवेंद्र फडणवीस ने मेरा जीवन बर्बाद किया, NCP में शामिल होऊंगा

उन्होंने कहा, ‘हमारी पार्टी ज्यादा संभावना है कि विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी, लेकिन हम बाद में कुछ मित्रों की मदद से राज्य में एक स्थिर सरकार बनाएंगे.’ माधव ने कहा, ‘हम राज्य की सभी सीटों पर उम्मीदवार उतारेंगे. चुनाव पूर्व किसी पार्टी के साथ गठबंधन की संभावना नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘मुझे भरोसा है कि भाजपा चुनाव बाद सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरेगी.’ माधव ने कहा कि राज्य में विशेष परिस्थितियों के कारण भाजपा जम्मू एवं कश्मीर में सरकार गठन के लिए दूसरे दलों से हाथ मिलाने में गुरेज नहीं करेगी. Also Read - महाराष्ट्र में BJP को बड़ा झटका- एकनाथ खडसे ने छोड़ा पार्टी का साथ- NCP में होंगे शामिल?

योगेंद्र यादव का विपक्ष पर बड़ा हमला, बोले- महागठबंधन बड़ा मजाक, ये ‘खोखले लोगों’ से भरा

वर्ष 2014 के विधानसभा चुनाव बाद पीडीपी के साथ अपनी पार्टी के गठबंधन के बारे में माधव ने कहा, ‘2014 के चुनाव बाद हमने एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम के आधार पर पीडीपी के साथ गठबंधन बनाया था.’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के तीन फरवरी को हुए जम्मू, लद्दाख और कश्मीर घाटी के पिछले दौरे का जिक्र करते हुए भाजपा महासचिव ने कहा कि मोदी राज्य में लोकसभा चुनाव और विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा के प्रचार अभियान का शुभारंभ करेंगे. उन्होंने कहा, “भाजपा राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए तैयार है. यह निर्वाचन आयोग को तय करना है कि दोनों चुनाव एकसाथ हों, या अलग-अलग.’