नई दिल्ली: बिहार में इस साल के आखिर में होने जा रहे विधानसभा चुनाव को लेकर अभी से सियासी सरगर्मी बढ़ गई है. राजद और भाजपा के बीच नारे की जंग भी छिड़ गई है. राजद मुखिया लालू यादव ने शनिवार को ट्वीट कर ‘दो हजार बीस, हटाओ नीतीश’ का नारा दिया तो अब भाजपा के राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी और बिहार के विधान परिषद सदस्य संजय मयूख ने उसी तर्ज पर नारे का जवाब नारे से देते हुए कहा है- ‘दो हजार बीस, फिर से नीतीश.’ Also Read - ढाई साल बाद पिता लालू को मिली जमानत तो भावुक हुए तेजस्वी, कहा-खुशी भी है और ये गम भी...

संजय मयूख वह नेता हैं, जिन्हें अध्यक्ष अमित शाह ने 2017 में बिहार से दिल्ली बुलाकर अपनी राष्ट्रीय टीम में बतौर राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी के तौर पर शामिल किया था. संजय मयूख की गिनती बिहार भाजपा के प्रभावशाली नेताओं में होती है. नीतीश कुमार को लेकर दिए इस नारे से माना जा रहा है कि उन्होंने राजद मुखिया लालू यादव को भाजपा की तरफ से जवाब दिया. चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू यादव ने शनिवार को ही ट्वीट कर ‘दो हजार बीस, हटाओ नीतीश’ का नारा देते हुए ट्वीट किया था. Also Read - Corona Virus Alert In Bihar: कोरोना पर CM नीतीश की सख्ती, हाई लेवल मीटिंग में दिए ये दिशा निर्देश, जानिए

बिहार में अक्टूबर-नवंबर के बीच विधानसभा चुनाव प्रस्तावित है. पिछली बार नवंबर में नतीजे आए थे. ऐसे में साल की शुरुआत से ही चुनाव के लिए बिसात बिछनी शुरू हो गई है. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने हाल में एक टीवी चैनल के इंटरव्यू में यह साफ कर चुके हैं कि बिहार में भाजपा नीतीश के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ेगी. ऐसे में लालू यादव के नीतीश पर वार का भाजपा नेता संजय मयूख ने जवाब देकर एनडीए की एकजुटता का संदेश दिया है. 2015 के विधानसभा चुनाव में राजद को 80, जदयू को 71 और भाजपा क 53 सीटें मिलीं थीं. कुल पांच चरणों में हुए चुनाव के नतीजे नौ नवंबर 2015 को घोषित हुए थे. Also Read - तेजस्वी यादव पर हत्या के प्रयास का केस दर्ज, बोले-किसानों और ग़रीबों के लिए जेल जाने को तैयार