रांची: झारखंड की राजमहल सीट से भाजपा विधायक अनंत कुमार ओझा ने आज सदन के भीतर कहा कि कोई लगातार फोन करके उन्हें और उनके परिवार को जान से मारने की धमकी दे रहा है. विधानसभा की कार्यवाही आज जैसे ही प्रारंभ हुई विपक्ष ने रोज की तरह भूमि अधिग्रहण कानून एवं अन्य मुद्दों पर हंगामा शुरू कर दिया. हंगामे के बीच विधायक ओझा ने कहा कि कोई उन्हें फोन कर जान से मारने की धमकी दे रहा है. Also Read - कोरोना मरीजों के इलाज में लगी ड्यूटी तो डॉक्टर दंपति ने दिया इस्तीफा, मिला 24 घंटे का अल्टीमेटम

यूपी में विधायक भी नहीं सुरक्षित, 48 घंटे में दो बीजेपी विधायकों को जान से मारने की धमकी Also Read - हेमन्त सोरेन ने केंद्र सरकार से की मांग- बेरोजगारी भत्ता की राशि मजदूरों के खातों में डाली जाए

बांग्लादेशी घुसपैठ का मुद्दा नहीं उठाने को कहा
ओझा ने कहा, ‘फोन करने वाला मुझे गालियां देता है. मुझे और मेरे परिवार को जान से मारने की धमकी देता है.’ अपने तथा परिवार के लिए सुरक्षा की मांग करते हुए उन्होंने कहा कि फोन करने वाला बार-बार कह रहा था कि राज्य में बांग्लादेशियों की घुसपैठ का मामला मत उठाओ. विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव ने कहा कि मुख्यमंत्री रघुवर दास ने इस मामले का संज्ञान लिया है और वह इस मामले को स्वयं पूरी गंभीरता से देखेंगे. Also Read - कोरोना वायरस: पूरे भारत में सफल रहा जनता कर्फ्यू, दिल्ली झारखंड सहित इन राज्यों में लॉकडाउन | 10 बड़ी बातें

यूपी : भाजपा के 2 दर्जन विधायकों को धमकी, रंगदारी न देने पर भुगतना पड़ेगा खामियाजा

सदन की कार्रवाई स्थगित
बाद में सदन की कार्यवाही विपक्ष के हंगामे के चलते बिना किसी कामकाज के दोपहर सवा बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. कार्यवाही फिर से शुरू होने पर भी विपक्ष का हंगामा जारी रहा जिस कारण उसे दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया.