उत्तर प्रदेश| बलिया स्थित बैरिया क्षेत्र से भाजपा के विधायक सुरेंद्र सिंह आज अपनी ही सरकार के अधिकारियों पर लालफीताशाही एवं भ्रष्टाचार का गंभीर आरोप लगाते हुए सड़क पर उतर आए तथा मानव श्रृंखला बनाकर प्रदर्शन किया और अनशन की चेतावनी दी.Also Read - Parliament Winter Session: विपक्षी नेताओं ने की मुलाकात, वेंकैया नायडू की दो टूक-सांसदों को माफी मांगनी ही होगी

भाजपा से बैरिया से पहली बार चुनाव जीते सुरेंद्र सिंह ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चेतावनी से बेपरवाह सुरेंद्र ने आज अपनी ही सरकार के अधिकारियों के खिलाफ ना सिर्फ मोर्चा खोल दिया, बल्कि उन्होंने मुख्यमंत्री के खिलाफ भी टिप्पणी करने से परहेज नहीं किया. Also Read - कब बहाल होगा जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा? भाजपा बोली- पहले चुन कर की जा रही हत्याएं बंद हों

सुरेंद्र ने अपने विधानसभा क्षेत्र में हर साल आने वाली बाढ़ को रोकने के लिये बजट आवंटित होने के बावजूद काम शुरू ना किए जाने के विरोध में बड़ी संख्या में अपने समर्थकों के साथ दूबेछपरा से टेंगरही तक करीब सात किलोमीटर लम्बी मानव श्रृंखला बनाकर सांकेतिक विरोध प्रदर्शन किया. Also Read - Punjab Polls: पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह ने पंजाब में नई सरकार बनाने का बताया फॉर्मूला, BJP से गठबंधन पर कही यह बात

उन्होंने कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र की डेढ़ लाख आबादी हर साल गंगा तथा घाघरा नदी की बाढ़ से परेशान होती है. प्रदेश शासन ने बाढ़ से बचाव के लिये 29 करोड़ रुपये की कार्ययोजना स्वीकृत की है, लेकिन लूट खसोट की मानसिकता के चलते अधिकारी काम शुरू नहीं कर रहे हैं.

सुरेंद्र ने बताया कि वह इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर सिंचाई मंत्री, विभागीय अधिकारियों तथा जिला प्रशासन के उच्चाधिकारियों से कई बार मिल चुके हैं, लेकिन इसका कोई सार्थक परिणाम नहीं निकला है. मुख्यमंत्री योगी ने भी इस मामले में अपेक्षित कदम नहीं उठाया. उन्होंने आगाह किया कि अगर एक सप्ताह में कार्य शुरू नहीं हुआ तो वह 24 मई को भूख हड़ताल शुरू करेंगे.
(भाषा से इनपुट)