नई दिल्ली: बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े (Ananth Hegde) ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) को लेकर विवादित बयान दिया है. अनंत हेगड़े ने कहा कि महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के सत्याग्रह नाटक थे. भारत को आज़ादी भूख हड़ताल और सत्याग्रह से नहीं मिली है. अंग्रेज़ों ने देश किसी सत्याग्रह की वजह से नहीं छोड़ा. ऐसे लोग हमारे देश के महात्मा बन जाते हैं.

संसद में विपक्ष का जोरदार हंगामा, ‘गोली मारना बंद करो’ के नारों से गूंजा लोकसभा

बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े (Ananth Hegde) ने ये विवादित बयान बेंगलुरु में दिया है. हेगड़े ने कहा कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक ‘नाटक’ था. हेगड़े ने ये भी कहा कि देश को आज़ादी सत्याग्रह से नहीं मिली. ये सच नहीं है. अंग्रेज़ों ने देश निराशा की वजह से छोड़ा था. जब मैं इतिहास पढ़ता हूं तो मेरा खून खौलता है. ऐसे लोग हमारे देश में महात्मा बन जाते हैं.

क्यों महात्मा गांधी ने नंगे पैर की थी नोआखाली यात्रा, पहुंचने पर कैसे मुस्लिम बनाने लगे थे टूटे मंदिर, दुर्लभ Video

खबरों के मुताबिक हेगड़े ने बेंगलुरू के एक कार्यक्रम में कहा कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक ‘नाटक’ था. ये पहला मौका नहीं जब हेगड़े ने इस तरह का बयान दिया हो. हेगड़े ने पहले कहा था कि बीजेपी उस संविधान को बदल देगी जिसमें धर्मनिरपेक्ष शब्द लिखा हो. इसके अलावा और भी कई बयान हैं जो बेहद विवादित रहे.

बेशुमार लोकप्रियता: अमेरिका, चीन, पाकिस्तान सहित दुनिया के 84 देशों में हैं महात्मा गांधी की प्रतिमाएं

कांग्रेस ने दी कड़ी प्रतिक्रिया
कांग्रेस (Congress) ने महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के बारे में भाजपा नेता अनंत हेगड़े (Ananth Hegde) के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर गिल ने कहा कि ‘‘महात्मा गांधी को अंग्रेजों के चमचों और जासूसों के कैडर से प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है.’’ उन्होंने यह भी दावा किया कि इस समय भाजपा को ‘नाथूराम गोडसे पार्टी’ (Nathu Ram Godse) कहा जाना चाहिए. उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि ‘अंग्रेजों के चमचों और जासूसों’ के कार्यकर्ताओं से राष्ट्रपिता को प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है.