नई दिल्ली: लोकसभा में भाजपा सांसद गणेश सिंह ने गुरुवार को दावा किया कि संस्कृत भाषा बोलने से तंत्रिका तंत्र को बढ़ावा मिलता है. यह मधुमेह और कोलेस्ट्रॉल को कम करती है. सिंह ने कहा कि अमेरिका के एक शैक्षणिक संस्थान की तरफ से किए गए एक शोध में यह बात सामने आई है.

बता दें कि लोकसभा में संस्कृत विश्वविद्यालयों के बिल पर बहस चल रही थी. इस बहस में अपनी बारी आने पर गणेश ने दावा किया कि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी (NASA) के शोध के अनुसार, अगर कंप्यूटर की प्रोगामिंग संस्कृत में की जाएगी तो यह बिना किसी रूकावट के बेहतर ढंग से काम करेगा.

सिंह ने आगे कहा कि दुनिया की 97 प्रतिशत भाषाएं संस्कृत के आधार पर बनाई गई हैं. इसमें इस्लामिक भाषाएं भी शामिल हैं जो संस्कृत पर आधारित हैं. इस मामले पर केंद्रीय मंत्री प्रताप सारंगी ने कहा कि संस्कृत भाषा बहुत ही लचीली है. इसमें एक ही वाक्य को कई तरीके से कहा जा सकता है. उन्होंने कहा कि अग्रेजी के कई सारे शब्दों की उत्पत्ति संस्कृत भाषा से ही हुआ है. सारंगी ने कहा कि संस्कृत प्राचीन भाषा है और इसके प्रचार से किसी अन्य भाषा पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. बता दें कि सारंगी ने संस्कृत में अपना शपथ लिया था.

समंदर किनारे बिकनी अवतार में दिखीं Roadies Rising की विनर, तस्वीरें देख फैंस बोले- क्या कहर ढाह रही हैं
जीप के पास खड़ी आमिर की बेटी ने पूछा- चलाऊं क्या? फैन्स बोले- लॉन्ग ड्राइव पर जाओ