लखनऊ. एक तरफ बच्चियों के साथ रेप पर कैबिनेट ‘प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंस’ (POCSO) पर संसोधन को लेकर मीटिंग कर रही है, वहीं दूसरी तरफ बीजेपी सांसद हेमा मालिनी इस पर विवादित बयान दिया है. बच्चों के खिलाफ हिंसा पर एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, आजकल इसकी पब्लिसिटी ज्यादा हो रही है.

हेमा ने कहा, आजकल इसकी पब्लिसिटी ज्यादा हो रही है. पहले भी शायद हो रहा होगा, मालूम नहीं. लेकिन इसके ऊपर जरूर ध्यान दिया जाएगा. ऐसा जो हादसा हो रहा है नहीं होना चाहिए, इससे देश का भी नाम खराब हो रहा है.

बता दें कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका के जवाब में कहा था कि वह पॉक्सो ऐक्ट में संशोधन करने की प्रक्रिया शुरू कर चुका है. इसके तहत 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ रेप के लिए फांसी का प्रावधान होगा. दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मांग की है कि पीएम इस मामले में हस्तक्षेप करें और पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए प्रयास करें.

ये है कठुआ मामला
बता दें कि जम्मू कश्मीर के कठुआ जिले में जनवरी महीने में 8 साल की बच्ची के साथ रेप हुआ था. क्राइम ब्रांच की चार्जशीट के मुताबिक, रेप एक देवस्थान पर किया गया था. इसमें उन्होंने देवस्थान के पुजारी, उसके लड़के, नाबालिग भतीजे, दो पुलिसकर्मी सहित 8 लोगों को गिरफ्तार किया था. आरोप था कि उन्होंने प्लान बनाकर पहले बच्ची का अपहरण किया, फिर देवस्थान पर ही कई दिनों तक रेप किया और अंत में उसकी हत्या कर दी.