नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी सांसद साक्षी महाराज ने बाबा गुरमीत राम रहीम को साध्वी से बलात्कार का दोषी ठहराए जाने के बाद भी बचाव किया है. उन्होंने कहा कि यह योजनाबद्ध तरीके से भारतीय संस्कृति को बदनाम करने का षडयंत्र है. डेरा समर्थकों की हिंसा पर भी बीजेपी सांसद ने कहा कि इसके लिए डेरा सच्चा सौदा के समर्थकों के साथ अदालत भी जिम्मेदार है.

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए साक्षी महाराज ने कहा कि अदालत में किसी एक व्यक्ति का फैसला महत्वपूर्ण होता है कि या करोड़ों लोगों के दिलों की आवाज. उन्होंने कहा, ‘जामा मस्जिद के इमाम को क्यों नहीं बुला लेते. राम रहीम सीधे-साधे हैं तो उन्हें बुला लो. एक लोग का फैसला सही है कि करोड़ों लोगों का जो वहां पहुंचे हैं.’

बीजेपी सांसद ने कहा कि अगर कोई बड़ी घटना होती है तो इसके लिए सिर्फ डेरा प्रेमी ही नहीं बल्कि कोर्ट भी जिम्मेदार होगी. यौन शोषण के एक मुकदमे में विशेष सीबीआई अदालत ने डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार दिया है.

सीबीआई कोर्ट के जज जगदीप सिंह ने अपना फैसला सुनाया. इस फैसले के बाद राम रहीम सिरसा स्थित अपने डेरे पर नहीं जा सकेंगे, उन्हें कस्टडी में ले लिया जाएगा. रोहतक में राम रहीम के लिए स्पेशल जेल बनाई गई है. सीबीआई कोर्ट 28 अगस्त, सोमवार को उनकी सजा पर फैसला सुनाएगा.