नई दिल्ली: अरूणाचल प्रदेश से भाजपा के लोकसभा सदस्य तापिर गाव ने अपने राज्य में चीन के अतिक्रमण का जिक्र करते हुए सोमवार को लोकसभा में आगाह किया कि यदि डोकलाम जैसा घटनाक्रम कहीं और होगा तो वह अरूणाचल प्रदेश मे होगा. गाव ने शून्यकाल के दौरान यह मुद्दा उठाते हुए कहा कि मीडिया में अरूणाचल से जुड़े मुद्दों को तरजीह नहीं दी जाती है और विभिन्न पार्टियों के नेता भी उसे नजरअंदाज करते हैं.

उन्होंने अरूणाचल प्रदेश में चीन के अतिक्रमण का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘कहीं और डोकलाम होगा तो वह अरूणाचल प्रदेश मे होगा.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हाल ही में जब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तवांग गये तो चीन ने बयान जारी कर आपत्ति दर्ज कराई. जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राज्य के दौरे पर गये तब भी चीन ने आपत्ति दर्ज कराई. जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गये तो भी चीन ने आपत्ति दर्ज कराई.’’

इस्‍लामी आतंकवादी केरल में माओवादियोंं को दे रहे बढ़ावा: सीपी एम नेता

भाजपा सांसद ने कहा, ‘‘लेकिन हमारी सरकार और सदन की ओर से (चीन के आपत्ति जताए जाने पर) इस पर कुछ नहीं कहा गया. ’’ उन्होंने आरोप लगाया कि अरूणाचल में चीन के अतिक्रमण से जुड़ी कोई भी खबर ना तो प्रिंट मीडिया में प्रकाशित होती है, ना ही इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में दिखाया जाता है. गाव ने कहा, ‘‘राज्य के 50-60 किमी क्षेत्र पर चीन का कब्जा है.’’

उन्होंने कहा कि कराची में किसी चीज की कीमत बढ़ती है तो वह यहां के अखबारों में छपता है, इलेक्ट्रानिक मीडिया में प्रसारित होता है लेकिन अरूणाचल में चीनी अतिक्रमण की खबर मीडिया में नहीं आती. उन्होंने विभिन्न राजनीतिक दलों पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि कोई पार्टी इस मुद्दे को नहीं उठाती है. उन्होंने कहा, ‘‘दूसरा डोकलाम मत होने दीजिए.’’

शिवसेना ने बीजेपी की तुलना मोहम्मद गौरी सेे की, कहा- जड़ से उखाड़ देंगे