नई दिल्ली: भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने सोमवार को कहा कि दिल्ली में अतिक्रमित सरकारी भूमि पर निर्मित मस्जिदों को ध्वस्त किया जाएगा. पश्चिमी दिल्ली के सांसद ने संवाददाता सम्मेलन में सरकारी जमीन पर अतिक्रमण के मुद्दे पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने इस मुद्दे को पिछले साल उठाया था.

वर्मा ने कहा कि उन्होंने पहले कहा था कि अगर कोई उनसे मंदिर या गुरुद्वारों के निर्माण के लिए सरकारी भूमि पर अतिक्रमण की शिकायत करता है तो वह उपराज्यपाल को कार्रवाई के लिए पत्र लिखेंगे लेकिन, कोई भी मंदिर या गुरुद्वारा सरकारी भूमि पर नहीं पाया जाता है, केवल मस्जिदें सरकारी भूमि पर पाई जाती हैं. उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन सरकरी जमीन पर कोई मंदिर, गुरुद्वारा मिलता नहीं है. केवल मस्जिद ही सरकारी जमीन पर मिलती है और सरकारी जमीन पर मस्जिद होगी तो उसका टूटना निश्चित है.’’

मकर संक्राति के मौके पर आज गुजरात जाएंगे गृह मंत्री अमित शाह

इसी बीच अखिल भारत हिंदू महासभा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि सरकार वीर सावरकर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भारत रत्न प्रदान किया जाए. अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज ने सोमवार को कहा, “वीर सावरकर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा आने वाले गणतंत्र दिवस पर हो सकती है.”

इस बाबत स्वामी चक्रपाणि ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. स्वामी ने कहा, “मैं कई बार प्रधानमंत्री को इस बारे में पत्र लिख चुका हूं कि इन दोनों को भारत रत्न दिया जाना चाहिए. वे अत्यधिक बौद्धिक व्यक्ति और महान देशभक्त रहे हैं.”