नई दिल्ली: विपक्षी महागठबंधन को झूठ पर आधारित गठबंधन करार देते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा कि भाजपा ‘मेकिंग इंडिया’ में लगी है तो कांग्रेस ‘ब्रेकिंग इंडिया’ में जुटी है. भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारणी के पहले दिन की बैठक समाप्त होने के बाद पार्टी की वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने संवाददाताओं को बताया कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने भाषण में केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लायी गयी जन-कल्याणकारी योजनाओं के बारे में विस्तृत चर्चा की.

उन्होंने बताया कि भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि ‘‘ पार्टी के कार्यकर्ता अर्थव्यवस्था को लेकर ‘पी. चिदंबरम एंड कंपनी’ द्वारा फैलाई जा रही भ्रांतियों को तथ्यों के आधार पर चुनौती दें.’’ शाह ने अपने भाषण में महागठबंधन को झूठ पर आधारित गठबंधन बताया और कार्यकर्ताओं से अपील कि इसका सच देश की जनता तक ले जाएं. शाह ने कहा कि महागठबंधन में शामिल होने वाली पार्टियां 2014 के बाद भी भाजपा के हाथों पराजित हो चुकी हैं. इसलिए महागठबंधन हो भी जाए तो भाजपा की सेहत पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

अमित शाह ने कहा, ‘‘सभी कार्यकर्ता सरकार के अच्छे कामों को लोगों के सामने ले कर आएं.’’ शाह के अपने भाषण की शुरुआत के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि अटल जी के निधन के बाद देश की राजनीति में जो रिक्तता आयी है, उसको भरना संभव नहीं है.

राफेल डील पर कांग्रेस का एक और हमला, विमान की तकनीक वही तो कीमत कैसे बढ़ गई

भाजपा अध्यक्ष ने कहा, ‘‘ एक तरफ जहां भाजपा ‘मेकिंग इंडिया’ में लगी है वहीं दूसरी ओर कांग्रेस ‘ब्रेकिंग इंडिया’ में लगी है.’’ उन्होंने कहा कि हम इस तरह से राष्ट्रीय नागरिक पंजी का कार्यान्वयन करेंगे कि एक भी नया घुसपैठिया भारत में नहीं आ सकेगा. शाह ने यह भी जोड़ा कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान या बांग्लादेश जैसे देशों से हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन या ईसाई धर्मा को मानने वाले लोग भारत में शरण मांगें तो उन्हें तत्काल शरण देनी चाहिए.

1,200 करोड़ रुपए से अधिक की धोखाधड़ी का भंडाफोड़, 200 करोड़ रुपए जब्त

तीन तलाक पर कांग्रेस के रुख की आलोचना करते हुए शाह ने कहा कि कई इस्लामिक देशों में भी तीन तलाक खत्म हो चुका है, लेकिन भारत में यह बिल राज्यसभा में लंबित है क्योंकि कांग्रेस पार्टी इस पर विरोधाभासी रवैया अपनाती है. शाह ने कहा कि 2019 का चुनाव मोदी सरकार की उपलब्धियों और हमारे संगठन की शक्ति के आधार पर लड़ा जायेगा.

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक शुरू, अगले लोकसभा चुनाव में 2014 से ज्यादा सीटें जीतने का लिया संकल्प

बैठक में केरल और देश के अन्य हिस्सों में आयी बाढ़ पर विस्तृत चर्चा की और सभी से राहत कार्यों में जुड़े रहने की अपील की. इस बैठक में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के अलावा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज समेत अन्य पार्टी नेताओं ने हिस्सा लिया.

भारतीय समाज के विघटन का कारण बनेगा वर्तमान एससी-एसटी एक्ट: शंकराचार्य

इससे पहले आज सुबह भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की अध्यक्षता में पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों एवं प्रदेश इकाई के अध्यक्षों की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई. सूत्रों ने बताया कि बैठक में शाह ने कहा कि अगले वर्ष होने वाले चुनाव में पार्टी 2014 से भी अधिक बहुमत से सरकार बनायेगी. ऐसा उन्हें पूरा विश्वास है क्योंकि संकल्प की शक्ति को कोई पराजित नहीं कर सकता है. पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों एवं राज्य इकाई के अध्यक्षों की बैठक में ‘‘अजेय भाजपा’’ के नारे को अंगीकार किया गया.