लखनऊ/देहरादून: भारतीय जनता पार्टी के अध्‍यक्ष अमित शाह आज उत्‍तराखंड की राजधानी देहरादून में त्रिशक्ति सम्‍मेलन हिस्‍सा लेने पहुंचे. उन्‍होंने सम्‍मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि देश भर की ज्यादातर पार्टियों में पार्टी अध्यक्ष और प्रधानमंत्री वंशवाद की परंपरा के अनुसार ही बनते आ रहे हैं. लेकिन भाजपा ही ऐसी पार्टी है जिसने एक गरीब को देश का प्रधानमंत्री बनाया है. इसलिए इस देश में मोदी जी का एक बार फिर प्रधानमंत्री बनना विकास और देश की सुरक्षा के लिए बहुत जरूरी है.

 

राम मंदिर को लेकर राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए उन्‍होंने कहा कि राहुल बाबा अपना स्‍टैंड क्‍लीयर करो, आप उस स्‍थान पर मंदिर चाहते हो कि नहीं चाहते हो. मैं डंके की चोट पर कहता हूं कि उसी जगह पर भव्‍य मंदिर बनना चाहिए. अमित शाह ने बसपा सुप्रीमो मायावती और सपा अध्‍यक्ष अखिलेश यादव के बीच लोकसभा चुनावों को लेकर हुए गठबंधन पर भी निशाना साधा. उन्‍होंने कहा कि गठबंधन के लिए यूपी की भी चर्चा होती है. कभी एक-दूसरे का मुंह ना देखने वाले, नमस्‍ते ना करने वाले बुआ-भतीजे एक मंच पर आ गए. वो एक हो गए, ये यही बताता है कि हम कितने ताकतवर हैं. हमारे कारण उन्‍हें एक होना पड़ा.

पीएम नरेंद्र मोदी की रैली में उमड़ी भारी भीड़, कहा- अब समझ आ रहा दीदी क्‍यों कर रहीं हिंसा

विपक्ष पर साधा निशाना
अमित शाह ने सम्‍मेलन में कहा कि भाजपा अपने कार्यकर्ताओं के आधार पर चुनाव जीतती है, बीजेपी का कार्यकर्ता मुश्किल से मुश्किल चुनाव को भी प्रचंड विजय में बदलने की ताकत रखता है. ‘केंद्र में नरेंद्र मोदी जी की सरकार और उत्तराखंड में त्रिवेंद्र रावत जी की सरकार है. इन दोनों सरकारों ने फास्ट ट्रैक पर उत्तराखंड के विकास को आगे बढ़ाने का काम किया है. साथ ही उन्‍होंने कहा कि विपक्षी दल सिर्फ मोदी हटाओ की बात करते हैं. जितना नाम वे लोग मोदी जी का लेते हैं, इतना अगर नारायण का नाम ले लें तो उनका कल्याण हो जाएगा.

गोवा में नौ फरवरी को भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे शाह
भाजपा प्रमुख अमित शाह नौ फरवरी को गोवा में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे. राज्य से पार्टी के एक नेता ने यह जानकारी दी. गोवा भाजपा के प्रमुख विनय तेंदुलकर ने शुक्रवार को पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करने के बाद पत्रकारों से कहा कि 1,642 बूथों से करीब 30,000 पार्टी कार्यकर्ताओं को शाह पणजी के पास संबोधित करेंगे. आगामी लोकसभा चुनावों के अलावा गोवा में शिरोडा और मंद्रेम विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने वाले हैं. कांग्रेस के तत्कालीन विधायकों सुभाष शिरोडकर और दयानंद सोपटे के पिछले साल अक्टूबर में क्रमश: शिरोडा एवं मंद्रेम से विधायक पद से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने के बाद यहां उपचुनाव कराया जाना जरूरी था.