कोलकाता. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह शनिवार को कोलकाता पहुंच रहे हैं. असम एनआरसी ड्राफ्ट आने के बाद पश्चिम बंगाल की यह उनकी पहली यात्रा है. उनकी यात्रा से पहले शहर के मध्य मायो रोड स्थित उनके रैली स्थल के आसपास ऐसे पोस्टर लगे दिखे जिन पर ‘‘भाजपा बंगाल छोड़ो’’ लिखा है. प्रदेश भाजपा ने आरोप लगाया कि ‘भाजपा बंगाल छोड़ो’ और ‘बंगाल विरोधी भाजपा वापस जाओ’ संदेश वाले पोस्टर तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा लगाये गए हैं. हालांकि इस आरोप से पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने इनकार किया. Also Read - कोरोना से लड़ने में PM मोदी की अपील को मंत्र बनाएं देश के लोग: अमित शाह

पश्चिम बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, इससे पता चलता है कि तृणमूल कांग्रेस शनिवार को होने वाली हमारी रैली से भयभीत है. राज्य के लोग भाजपा के सुशासन का इंतजार कर रहे हैं. भाजपा के एक अन्य नेता ने कहा कि बंगाल तृणमूल कांग्रेस की ‘‘निजी सम्पत्ति’’ नहीं है, पार्टी को ऐसी मांगें करने का कोई अधिकार नहीं है. उन्होंने कहा, आने वाले दिनों में राज्य के लोग इसका निर्णय करेंगे कि कौन रुकेगा और कौन जाएगा. यद्यपि तृणमूल कांग्रेस महासचिव एवं पश्चिम बंगाल के शिक्षा मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि ‘‘भाजपा विरोधी पोस्टरों’’ से उनकी पार्टी का कोई लेना देना नहीं है। Also Read - Bihar Assembly Election 2020: अमित शाह ने फिर कहा- बिहार में नीतीश के नेतृत्व में ही हो रहा चुनाव, चिराग से नहीं है कोई लेना-देना, आखिर क्यों...

पोस्टर वार
जिस मार्ग से शनिवार को रैली स्थल पर पहुंचेंगे, उस पर तृणमूल कांग्रेस प्रमुख एवं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कटआउट लगे हैं. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने गत जून में शाह के पुरुलिया दौरे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पश्चिमी मिदनापुर में पिछले महीने हुई रैली के दौरान भी ऐसे पोस्टर लगाये थे. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने यह कहते हुए तृणमूल कांग्रेस का मजाक भी उड़ाया था कि सत्ताधारी पार्टी ने उनका स्वागत करने के लिए पोस्टर लगाये हैं. Also Read - शरद पवार ने गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी पर साधा निशाना, बोले-कोई आत्मसम्मान वाला व्यक्ति होता तो पद पर नहीं होता

बीजेपी ने घेरा
विजयवर्गीय ने कहा, उन्होंने ऐसा (तृणमूल कांग्रेस द्वारा पोस्टर लगाना) पूर्व में भी किया है. हो सकता है कि यह उनका राज्य में लोगों का स्वागत करने का तरीका हो. चटर्जी ने कहा कि उनकी पार्टी सुप्रीमो के पोस्टर और तख्तियां लगाने में कुछ भी गलत नहीं है. असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ तृणमूल कांग्रेस द्वारा कल विरोध रैली आयोजित करने की घोषणा किए जाने के बाद भाजपा नेतृत्व ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की रैली में शामिल होने वाले कार्यकर्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और राज्य के प्रमुख सचिव को पत्र लिखा है.

गृहमंत्री को लिखी चिट्ठी
पश्चिम बंगाल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष दिलीप घोष ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि वह पश्चिम बंगाल की तृणमूल कांग्रेस सरकार से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली में आने वाले और फिर यहां से वापस जाने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहें. भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश मजूमदार ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव मलय डे को पत्र लिखकर भाजपा कार्यकर्ताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने को कहा है.