पणजी: लोकसभा चुनावों से पहले भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने पार्टी के नेताओं से भाजपा के सबका साथ वाले नारे की पुष्टि के लिए अल्पसंख्यक समुदायों के बीच जाने को कहा है. उत्तरी गोवा के सांसद एवं केंद्रीय आयुष मंत्री श्रीपद नाईक ने रविवार को ऐसा दावा किया. नाईक ने मीडियाकर्मियों को बताया, ”बंद दरावजे के पीछे हुई बैठक के दौरान शाह ने पार्टी नेताओं से अल्पसंख्यकों के बीच जाने को कहा.” दरअसल, बीजेपी अध्यक्ष गोवा मॉडल के जरिए अल्पसंख्यकों को भाजपा की ओर आकर्षित करना चाहते हैं, क्योंकि गोवा में बीजेपी सरकार में अल्पसंख्यक समुदाय के 7 विधायक हैं.

अमेरिका से भारत को मिले चिनूक हेलिकॉप्टर, इंडियन एयरफोर्स की और बढ़ी ताकत

नाईक के मुताबिक गोवा के पार्टी पदाधिकारियों के साथ शनिवार को बंद दरवाजे के पीछे हुई बातचीत के दौरान शाह ने ये निर्देश दिए. इससे पहले उन्होंने बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं की एक बैठक को संबोधित किया था. नाईक ने साथ ही बताया, ”अल्पसंख्यक समुदायों के बारे में बात करते हुए शाह सिर्फ गोवा के बारे में ही नहीं कह रहे थे.”इस बारे में जब विस्तार से बताने को कहा गया तो नाईक ने कहा, ”अगर आप पार्टी को बढ़ाना चाहते हैं तो हमें हर किसी को साथ लेकर चलना होगा. इसलिए शाह ने अल्पसंख्यकों तक पहुंच बनाने के बारे में कहा.”

जब लाखों दिलों की धड़कन ‘हीरोइन’ को नहीं पहचान पाए लालबहादुर शास्त्री, ये सवाल सुन हो गईं शर्मिंदा

नाईक ने बताया कि मौजूदा गोवा सरकार में अल्पसंख्यक समुदाय के सात विधायक हैं जो भाजपा की टिकट पर चुने गए थे. उन्होंने कहा, ”गोवा में अल्पसंख्यकों के बीच हमारी स्वीकार्यता है. शाह राष्ट्रीय स्तर पर सभी समुदायों को साथ लेकर चलने की बात कर रहे थे.”

सुरक्षाबलों ने 5 आतंकियों को किया ढेर, पत्थरबाजों के उपद्रव में 4 जवान जख्मी