Bharatiya Janata Party President Jagat Prakash Nadda will hold a roadshow in Telangana’s Hyderabad tomorrow: हैदराबाद नगर निकाय चुनाव इस बीजेपी और उसकी विरोधी पार्टियों के लिए बड़ा चुनावी अखाड़ा बन चुका है. टीआरएस और एआईएमआई जैसे दलों और बीजेपी के बीच यहां चुनावी घमासान मचा हुआ है. बीजेपी तेलंगाना की राजधानी से राज्‍य में अपने प्रभाव को बढ़ाने के लिए बड़ी शुरुआत करना चाहती है. हैदराबाद नगर निकाय चुनाव के लिए कल यानि शुक्रवार को बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा तेलंगाना की राजधानी में रोड शो करेंगे.Also Read - योगी ने ‘चाचा’ की तारीफ की तो अखिलेश बोले, मुख्यमंत्री को हमारे चाचा की बहुत चिंता है

Also Read - यूपी: पुलिस की दबिश से परेशान महिला और उसकी दो बेटियों ने ज़हर खाया, तीनों की मौत, दरोगा के खिलाफ मुकदमा

दरअसल, बृहद् हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) का चुनाव एक दिसंबर को होने वाला है. Also Read - अखिलेश यादव का बीजेपी सरकार पर हमला, कहा- गर्त में जा रहा यूपी, किसानों के साथ धोखा हुआ

सीएम योगी और अमित शाह भी जाएंगे हैदराबाद 
बता दें कि ग्रेटर हैदराबाद म्‍यूनिसपल कॉर्पोरेशन के इलेक्‍शन एक दिसंबर को होना है. इस लोकल चुनाव के लिए बीजेपी का राष्‍ट्रीय नेतृत्‍व अपनी पूरी ताकत लगा रहा है. हैदराबाद में सीएम योगी आदित्‍यनाथ और बीजेपी के पूर्व अध्‍यक्ष अमित शाह भी यहां पहुंचेंगे.

घोषणा पत्र भी जारी किया था
बीजेपी युवा मोर्चा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष तेजस्‍वी सूर्या भी यहां सक्रिय रहे हैं और उन्‍होंने प्रचार किया है. बीते 26 नवंबर को हैदराबाद के नगर निकाय चुनावों के लिए बकायदा एक घोषणापत्र जारी कर पार्टी ने कई वादे भी किए थे. इनमें महानगर में हाल के समय में बारिश से प्रभावित हर परिवार को 25 हजार रुपए की आर्थिक सहायता, 100 यूनिट से कम खपत वाले परिवारों को नि:शुल्क बिजली, महानगर की बसों और मेट्रो ट्रेन में महिलाओं को मुफ्त में सफर की सुविधा देगी.

मुफ्त में वायरस की जांच की सुविधा
महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की तरफ से जारी घोषणापत्र में कहा गया कि केंद्र की सलाह के मुताबिक सभी को कोविड-19 टीका मुहैया कराया जाएगा. इसने कहा कि महानगर में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए प्रभावी योजना तैयार की जाएगी, जिसमें महानगर में हर किसी को मुफ्त में वायरस की जांच की सुविधा मिलेगी.

नि:शुल्क टैबलेट का भी वादा
घोषणापत्र में नि:शुल्क पेयजल आपूर्ति, हर वर्ष तीन नए महिला थानों का निर्माण और महिलाओं के लिए हर एक किलोमीटर पर शौचालय का निर्माण, महामारी के दौरान ऑनलाइन शिक्षा तक पहुंच में आ रही दिक्कतों को देखते हुए सरकारी स्कूलों के छात्रों को नि:शुल्क टैबलेट का भी वादा किया गया है.