नई दिल्ली: भाजपा ने पुलवामा आतंकी हमले की बरसी पर राहुल गांधी के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए शुक्रवार को उनपर आतंकी संगठनों.. लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद से ‘‘सहानुभूति रखने का’’ आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का बयान उन शहीदों का अपमान हैं जिन्होंने देश के लिए अपनी जान न्योछावर की. राहुल पर निशाना साधते हुए भाजपा ने कहा कि पुलवामा नृशंस आतंकी हमला था और गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता.


भाजपा प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव ने अपने ट्वीट में आरोप लगाया , ‘‘ लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद से ‘सहानुभूति रखने वाले व्यक्ति माने जाने वाले’ राहुल गांधी ने न केवल सरकार पर बल्कि सुरक्षा बलों पर भी निशाना साधा . राहुल गांधी वास्तविक दोषी पाकिस्तान से कभी सवाल नहीं करेंगे . राहुल, आपको शर्म आनी चाहिए .’’ गौरतलब है कि पुलवामा हमले की बरसी पर राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा है ‘‘हमें यह पूछना है कि इस हमले से सबसे ज्यादा फायदा किसको हुआ?” उन्होंने यह सवाल भी किया, ‘ हमले की जांच में क्या निकला? हमले से जुड़ी सुरक्षा खामी के लिए भाजपा सरकार में अब तक किसको जवाबदेह ठहराया गया है? ‘


भाजपा के एक अन्य प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने अपने ट्वीट में कहा कि पुलवामा पर राहुल गांधी की टिप्पणियां उन शहीदों का अपमान हैं जिन्होंने देश के लिए अपनी जान न्योछावर की. ‘पुलवामा से किसे सबसे ज्यादा फायदा हुआ’ वाली टिप्पणी के लिए राहुल गांधी की आलोचना करते हुए हुसैन ने कहा कि कहा कि ऐसी टिप्पणियों से पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय मंचों पर भारत पर इल्ज़ाम लगाने में मदद मिलती है. भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने अपने ट्वीट में कहा ‘‘पुलवामा में हुआ हमला नृशंस आतंकी हमला था और यह (राहुल का) एक नृशंस बयान है कि किसको फायदा हुआ.’’


पात्रा ने कहा, ‘‘ मिस्टर गांधी, क्या आप फायदे के आगे भी सोच सकते हैं ? जाहिर तौर पर नहीं .’’ भाजपा प्रवक्ता ने कहा ‘‘यह तथाकथित गांधी परिवार फायदे के अलावा और कुछ सोच ही नहीं सकता . वे सिर्फ भौतिक रूप से ही भ्रष्ट नहीं हैं…उनकी आत्माएं भी भ्रष्ट हैं .’’ गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बड़ा आतंकी हमला हुआ था जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे.