नयी दिल्ली: अगर कोई मुफ्त चीजें मुहैया कराकर चुनाव जीत सकता है तो दिल्ली के मुख्यमंत्री हर चीज मुफ्त कर देते. यह बात केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने शुक्रवार को महानगर की सरकार पर तंज कसते हुए कही. उनका इशारा महिलाओं को मुफ्त मेट्रो सवारी और सब्सिडी पर बिजली मुहैया कराने की ओर था.

पब्लिक अफेयर्स फोरम ऑफ इंडिया की तरफ से आयोजित छठे नेशनल फोरम 2019 में पुरी ने कहा कि मामला यह नहीं है कि इसे मुफ्त होना चाहिए या नहीं, लेकिन ऐसा होना चाहिए कि किस तरह से व्यवस्था बने जो उचित मूल्य पर हो और प्रभावी हो. उन्होंने कहा कि अगर आप हर चीज मुफ्त कर चुनाव जीत सकते हैं तो केजरीवाल हर चीज मुफ्त कर देते- बसों की सवारी, बिजली सब. कुछ को वह पूरी तरह मुफ्त कर देते, कुछ को आधी कीमत पर कर देते. जब आप पूछते हैं कि धन से कहां से आता है तो वह कहते हैं कि भ्रष्टाचार है. पुरी ने कहा कि दिल्ली में दुनिया की बेहतरीन मेट्रो व्यवस्थाओं में से एक है जो न केवल सस्ती है, बल्कि प्रभावी भी है.

केजरीवाल सरकार ने की कई घोषणाएं
आम आदमी पार्टी की सरकार ने हाल में दिल्ली में महिलाओं के लिए मेट्रो और बस की सवारी मुफ्त करने की घोषणा की थी. इसने दिल्ली निवासियों के लिए 200 यूनिट तक बिजली मुफ्त करने की भी घोषणा की थी. अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले उन्होंने ये घोषणाएं की थीं. किराया बढ़ने के बाद मेट्रो में सवारियों की संख्या कम होने के दावे का विरोध करते हुए पुरी ने कहा कि किराया बढ़ने के बाद सवारियों की संख्या तीन गुना बढ़ गई है. मेट्रो का किराया नौ साल के बाद 2017 में बढ़ाया गया था.