नई दिल्ली: आम चुनाव से पहले दलित समुदाय से जुड़ाव को मजबूत करने और विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिए भाजपा रविवार को दिल्ली में अपनी रैली में तकरीबन तीन लाख दलित घरों से जुटाए गए चावल और दाल से 3,000 किलोग्राम खिचड़ी पकाएगी. रामलीला मैदान में भीम महासंगम रैली में समरसता खिचड़ी पकायी जाएगी. दिल्ली भाजपा का अनुसूचित जाति मोर्चा खिचड़ी बनाने में इस्तेमाल होने वाले सामान को जुटा रहा है. रैली को पार्टी प्रमुख अमित शाह संबोधित करेंगे .

दिल्ली बीजेपी अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष मोहनलाल गिहारा ने बताया कि हमने अभी तक दो लाख दलित घरों को कवर किया है और आगामी दिनों में लक्षित तीन लाख घरों में 90 प्रतिशत तक पहुंचने की उम्मीद है. साथ ही, हम इस कार्य को विश्व रिकॉर्ड के तौर पर दर्ज करने के लिए गिनीज बुक से भी संपर्क में हैं.

मौजूदा विश्व रिकार्ड 918.8 किलोग्राम खिचड़ी बनाने का है. नवंबर 2017 में दिल्ली में आयोजित वर्ल्ड फूड इंडिया फेस्टिवल में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय और मशहूर शेफ संजीव कपूर के नेतृत्व में यह रिकॉर्ड बनाया गया. गिहारा ने कहा कि नागपुर के शेफ विष्णु मनोहर और उनकी टीम को रैली में समरसता खिचड़ी पकाने के लिए आमंत्रित किया गया है. इस रैली में 50,000 लोगों के आने की संभावना है. मनोहर और उनकी टीम ने एक बरतन में 3,000 किलोग्राम खिचड़ी बनाने का प्रयास किया था.

गिहारा ने बताया कि खास तौर पर तैयार बरतन का व्यास 20 फुट है और इसकी गहराई छह फुट होगी. इसमें चावल, दाल, नमक और पानी डालकर 3,000 किलोग्राम खिचड़ी बनायी जाएगी. भाजपा प्रमुख अमित शाह रैली को संबोधित करने वाले हैं. पार्टी इसके जरिए दिल्ली में दलित समुदाय में अपनी पैठ बनाना चाहती है. इस रैली के माध्यम से बीजेपी ने दलितों को एक बार फिर साधने की रणनीति बनाई है.