modi-jharkhandझारखंड में आखिरी चरण के विधानसभा चुनाव खत्म हो गए हैं। इसके साथ ही सरकार किसकी होगी इसपर भविष्यवाणी शुरू हो गयी हैं। इसी के मद्दे नजर एग्जिट पोल की मानें तो प्राकृतिक संसाधनों से भरपूर इस राज्य को लंबे समय बाद पूर्ण बहुमतवाली सरकार मिल सकती है। तमाम सर्वे से पता चलता हैं कि झारखंड में मोदी का जादू जमकर चला हैं। बता दे कि विपक्ष हमेशा से ही मोदी लहर न होने की बात करता रहा हैं। ऐसे में अगर ऐसा होता हैं तो मोदी के लिए यह बहुत बड़ी कामयाबी होगी। Also Read - आज संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री मोदी, आतंकवाद सहित इन मुद्दों पर रहेगा फोकस

ज्ञात हो कि लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के दम पर भाजपा पूर्ण बहुमत में आयी हैं। इसके साथ ही विधानसभा चुनाव में भी मोदी के बलबूते भाजपा महाराष्ट्र में सबसे बड़ी पार्टी बनकर आयी। इंडिया टुडे ग्रुप और सिसेरो के एग्जिट पोल के मुताबिक, 81 सदस्यीय विधानसभा में बीजेपी गठबंधन 41 से 49 सीटें जीतकर सत्ता में आ सकता है। बता दे कि यह एग्जिट पोल शुरुआती चार चरणों के मतदान के आधार पर किया गया है. Also Read - अजित पवार ने जनसंघ संस्‍थापक दीनदयाल उपाध्याय को श्रद्धांजलि दी, बाद में ट्वीट हटाया

jharkhand EXIT POLL Also Read - महाराष्‍ट्र के गृह मंत्री ने बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडे पर साधा निशाना, दिया ये बड़ा बयान

एग्जिट पोल बताते हैं कि हेमंत सोरेन की झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) 15 से 19 सीटें जीतकर दूसरे नंबर पर रहेगी जबकि कांग्रेस और उसकी सहयोगी पार्टियों के खाते में 7 से 11 सीटें आ सकती हैं। साथ ही अन्य को 8 से 12 सीटों का अनुमान है। ज्ञात हो कि 2009 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी गठबंधन के पास सिर्फ 23 सीटें थीं।

वही अगर वोट फीसदी की बात करें तो बीजेपी को इस बार 36 फीसदी वोट मिल सकता  हैं। जबकि जेएमएम को 20, अन्य को 28 और कांग्रेस को 16 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है। झारखंड मुक्ति मोर्चा का वोट फीसदी सबसे ज्यादा (8.3 फीसदी) बढ़ता नजर आ रहा है लेकिन सीटों के मामले में उसे इसका खास फायदा नहीं मिल रहा. अगर झारखंड में भाजपा गठबंधन सत्ता में आता हैं तो मोदी और अमित शाह का पार्टी में कद पहले के मुकाबले और बढ़ जायेगा।