कोलकाता: भाजपा ने बृहस्पतिवार को दावा किया कि दक्षिण 24 परगना जिले में उसके एक कार्यकर्ता के ‘जय श्री राम’ का नारा लगाने को लेकर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने उस पर गोली चला दी, जिसमें वह घायल हो गया. हालांकि, राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी ने इस आरोप को खारिज कर दिया है.

पुलिस ने कहा कि रामप्रसाद मंडल नाम के व्यक्ति के पैर में गोली मारी गई और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है. भाजपा सूत्रों ने बताया कि यह घटना बृहस्पतिवार शाम हुई, जब मंडल बरुईपुर में एक चाय दुकान पर बैठा हुआ था और भाजपा नीत केंद्र सरकार की उपलब्धियों का जिक्र कर रहा था तथा ‘जय श्री राम’ का नारा लगा रहा था. सूत्रों ने बताया कि तभी उसके और तृणमूल कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गई. तृणमूल कार्यकर्ताओं ने उससे ‘जय श्री राम’ का नारा लगाना कथित तौर पर बंद करने को कहा.

तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व ने आरोपों को बेबुनियाद बताया
एक स्थानीय भाजपा नेता ने कहा कि इसके तुरंत बाद, तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गोली चला दी और उसके दाएं पैर में गोली लगी. हालांकि, तृणमूल कांग्रेस नेतृत्व ने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए खारिज कर दिया और दावा किया कि यह हमला भाजपा की अंदरूनी कलह का नतीजा है.