दरभंगा: बिहार के दरभंगा जिले के सदर थाना क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर एक चौक का नाम रखना भाजपा के एक कार्यकर्ता को भारी पड़ गया. आरोप है कि गांव के ही कुछ लोगों ने उसके घर पर हमला बोल दिया, जिसमें उसके पिता की मौत हो गई जबकि वह घायल हो गया.

पुलिस के अनुसार, दरभंगा के भदवा गांव निवासी व भाजपा कार्यकर्ता कमलेश यादव ने दो वर्ष पूर्व अपने घर के समीप स्थित एक चौक का नाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम पर रख दिया और वहां ‘मोदी चौक’ का एक बोर्ड लगा दिया. इससे गांव के ही कुछ लोग नाराज थे. आरोप है कि ‘मोदी चौक’ नाम रखने से नाराज लाठी-डंडे व तलवार से लैस करीब दो दर्जन लोगों ने गुरुवार की रात कमलेश के घर पर हमला बोल दिया. इस हमले में कमलेश के पिता रामचंद्र यादव (61) की तलवार से काटकर हत्या कर दी गई जबकि कमलेश गंभीर रूप से घायल हो गया.

दरभंगा सदर के थाना प्रभारी रविशंकर ने शुक्रवार को बताया कि घायल अवस्था में कमलेश को दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल (डीएमसीएच) में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है. डीएसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और रात होने तक आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने भाई का बयान दर्ज कर लिया है और मामले की पड़ताल कर रही है.

इस घटना से नाराज लोगों ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर दरभंगा के कर्पूरी चौक पर प्रदर्शन किया. घटना के बाद से क्षेत्र में तनाव बना हुआ है.