कोझिकोड (केरल): देश भर में पिछले कुछ महीनों से नागरिकता विधेयक के खिलाफ प्रदर्शन जारी है. इस विरोध प्रदर्शन में छात्रों के साथ पेशेवर लोग भी शामिल हैं. विपक्षी पार्टियां जहां एक तरफ इस बिल के खिलाफ लगातार बयान दे रही हैं वहीं सातधारी पक्ष इस विधेयक के समर्थन में लगातार रैलियां और कार्यक्रम आयोजित कर रही है. इस मामले को लेकर राजनीति भी बहुत तेज हो चुकी है.

जम्मू कश्मीर में ब्रॉडबैंड, 2जी इंटरनेट सेवा आंशिक रूप से बहाल

इसी बीच भाजपा कार्यकर्ताओं का एक वीडियो वायरल हो गया है, जिसमें वे नागरिकता संशोधन अधिनियम के समर्थन में आयोजित एक रैली में भड़काऊ नारे लगाते हुए दिख रहे हैं, जिसको लेकर पुलिस ने मामला दर्ज किया है. पुलिस ने बताया कि रैली सोमवार को पास के कुटियाडी में निकाली गई थी. वीडियो में कुछ भाजपा कार्यकर्ता, पार्टी के झंडे लेकर कथित रूप से भड़काऊ नारे लगाते नजर आ रहे हैं.

केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह ने कहा- जम्मू-कश्मीर में लागू होंगे RTI कानून के सभी प्रावधान

पुलिस ने माकपा की युवा शाखा भारतीय लोकतांत्रिक युवा संघ (डीवाईएफआई) की एक शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया. एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘हमने भारतीय दंड संहिता की धारा 153 (दंगा भड़काने के इरादे से भड़काऊ बयान देने) में मामला दर्ज किया है. मामले की जांच जारी है.’’