बेंगलुरु: लोकसभा चुनाव का डंका बज चुका है और केंद्र में सत्‍तारूढ़ नरेन्‍द्र मोदी सरकार की दोबारा वापसी को लेकर तरह-तरह के दावे, सर्वेक्षण और अनुमान सामने आ रहे हैं. इसी बीच दक्ष‍िण भारत के बीजेपी के एक प्रमुख नेता ने पार्टी के प्रदर्शन पर संभावना जताते हुए दावा किया है कि बीजेपी इस बार पिछले चुनाव के मुकाबले और भी बेहतर प्रदर्शन कर सकती है और उसकी सीटों का आंकड़ा 300 तक पहुंच सकता है. पार्टी अपने संभावित नुकसान की भरपाई के साथ बेहतर बढ़त भी नए राज्‍यों और क्षेत्रों में जीत से कर सकती है. कर्नाटक बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बी.एस येदियुरप्पा को विश्वास है कि पार्टी उन राज्यों में बेहतर प्रदर्शन करेगी, जहां पहले वह अपनी पर्याप्त उपस्थिति दर्ज नहीं करा पाई थी. उन्होंने यह भी कहा कि राज्यों में बेहतर प्रदर्शन कर लोकसभा चुनाव में पार्टी को 300 के आंकड़े तक पहुंचने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा कि भाजपा हालांकि मध्य प्रदेश और राजस्थान विधानसभा चुनाव हार गई, लेकिन पार्टी 2014 लोकसभा चुनाव के अपने प्रदर्शन को एक बार फिर दोहराएगी.

Lok Sabha Election 2019: भाजपा ने लोकसभा चुनावों के लिए अब तक घोषित किए 297 उम्मीदवार

येदियुरप्पा ने एक इंटरव्‍यू में कहा, ”देशभर में सकारात्मक माहौल है. नरेन्द्र मोदी की लहर पिछले लोकसभा चुनाव की तुलना में कई गुना बढ़ी है. हम पश्चिम बंगाल, ओडिशा और अन्य उत्तर-पूर्वी राज्यों जैसे नए क्षेत्रों में जीत की उम्मीद कर रहे हैं. इससे लोकसभा चुनाव में भाजपा 300 के आकंड़े तक पहुंच सकती है.” उन्होंने कहा कि पार्टी तमिलनाडु, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रही है. येदियुरप्पा ने पार्टी के इस बार केरल में भी खाता खोलने का विश्वास व्यक्त किया.

कांग्रेस की नाव में सवार होने को तैयार बिहार का ये दबंग सांसद, पार्टी नेतृत्‍व के पाले में गेंद

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्नाटक में भी हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र में भाजपा अच्छा कर रही है. मुंबई-कर्नाटक और मध्य कर्नाटक में उसकी पहले से ही अच्छी मौजूदगी है. उन्होंने दावा किया कि अगर राज्य में 20 से 22 सीटें भाजपा को मिलती हैं तो प्रदेश की कांग्रेस-जद (एस) की अंतरकलह में डूबी गठबंधन सरकार भी गिर सकती है.

बीजेपी अध्यक्ष बन देश को चौंकाया था, अब ‘मास-लीडर’ बनने को कर रहे संघर्ष

भाजपा ने 2014 लोकसभा चुनाव में 28 में से 17 सीटें, कांग्रेस ने नौ सीटें जबकि जद (एस) ने दो सीटें जीती थी. कांग्रेस-जद(एस) इस बार एक साथ मैदान में उतरे हैं और उनके बीच क्रमश: 20 तथा आठ सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने पर सहमति बनी है.

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने कहा कि तुमकुर और मैसूरू में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद के साथ कर्नाटक में भाजपा की संभावनाएं अच्छी हैं. पार्टी रामनगर और हासन में भी अच्छी टक्कर देगी, जो जद (एस) का गढ़ है.