नई दिल्ली: बॉलीवुड में पंगा गर्ल के नाम से मशहूर एक्ट्रेस कंगना रनौत अक्सर सुर्खियों में छाई रहती हैं. जहां कुछ दिन पहले वह महाराष्ट्र सरकार के साथ तकरार को लेकर चर्चा में थीं तो अब वह किसान आंदोलन की वजह से एक बार फिर से छाई हुई हैं. दरअसल किसान आंदोलन को लेकर उन्होंने एक ट्वीट किया और उस ट्वीट की वह से उन्हें आलोचनाओं का शिकार होना पड़ रहा है. Also Read - Kisan Andolan: हरियाणा के इन 3 जिलों में कल शाम 5 बजे तक इंटरनेट और SMS सेवाएं रहेंगी बाधित 

अब हरियाणा की खाप पंचायतों ने भी कंगना रनौत के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. आंदोलन में सक्रीय एक बूढ़ी दादी मां को लेकर कंगना के ट्वीट के बाद हरियाणा और पंजाब के साथ देशभर के किसान कंगना से नाराज हैं. अब हरियाणा के खाप पंचायतों ने कंगना को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर कंगना रनौत में हिम्मत है तो हरियाणा में घुसकर दिखाएं. Also Read - Kisan Andolan: ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के बाद किसानों ने बजट के दिन संसद मार्च की योजना टाली

इसी के साथ अखिल भारतीय सर्वजातीय पुनिया खाप पंचायतों ने कहा है कि किसानों के आंदोलन को लेकर कंगना को इस प्रकार की बात नहीं करनी चाहिए. खाप पंचायतों ने कहा कि अब पंचायत भविष्य में आने वाली कंगना की सभी फिल्मों का विरोध भी करेगी. पंचायत की तरफ से कंगना के खिलाफ मुकदमें दर्ज कराई जाने की बात भी कही गई है. Also Read - किसानों ने हमें धोखा दिया, दोषियों को नहीं छोड़ेंगे, कड़ी कार्रवाई करेंगे: दिल्ली पुलिस

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के सदस्य जस्मैन सिंह नोनी की ओर से वकील हरप्रीत सिंह होरा ने कानूनी नोटिस भेजा था. नोटिस में कहा गया, ‘‘इसी तरह संविधान के तहत किसानों को भी शांतिपूर्ण प्रदर्शन भी अधिकार है और वह किसानों का अपमान नहीं कर सकती हैं.’’

नोटिस के मुताबिक कंगना ने एक ट्वीट साझा कर आरोप लगाया कि ‘शाहीन बाग की दादी’ भी नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों के आंदोलन से जुड़ गयी हैं . नोटिस में कहा गया कि अभिनेत्री ने अपने उसी ट्वीट में कहा कि ‘टाइम’ पत्रिका में जगह बना चुकी वही दादी ‘‘100 रुपये में उपलब्ध’’ है .