Booster Dose: आज से लग रही है कोरोना से बचाव की एहतियाती खुराक, आपको SMS मिला क्या?

भारत में सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर, 10 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों, और गंभीर बीमारियों (Comorbidity) के साथ जी रहे लोगों को कोरोना की एहतियाती खुराक (Precaution Dose) देने की शुरूआत आज से हो गई है. एहतियाती खुराक के लिए शनिवार 8 जनवरी की शाम से कोविन पोर्टल (Co-Win Portal) पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शरू हो चुकी थी.

Updated: January 10, 2022 7:30 AM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Digpal Singh

Booster Dose: आज से लग रही है कोरोना से बचाव की एहतियाती खुराक, आपको SMS मिला क्या?

COVID-19: कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन (Omicron) ने पूरी दुनिया डरी हुई है. हालांकि, अब तक इस ओमीक्रोन को जितना समझा गया है, उसके अनुसार यह पिछले सभी वेरिएंट से कई गुना ज्यादा संक्रामक है, लेकिन इससे गंभीर रूप से बीमार पड़ने की आशंका कम है. इसके बावजूद ओमीक्रोन (Omicron) तमाम देशों के सामने एक नई चुनौती के रूप में खड़ा है. ओमीक्रोन वेरिएंट सामने आने के बाद भारत सहित कई देशों में कोरोना (Coronavirus) की नई लहर (Third Wave of Corona) देखी जा रही है. ऐसे में अपने नागरिकों को सुरक्षित रखना सरकारों ने सबसे बड़ी जिम्मेदारी है. माना जा रहा है कि जिन लोगों को वैक्सीन (Covid Vaccine) लिए 9 महीने से ज्यादा हो चुके हैं उनमें एंटीबॉडी (Antibody) का स्तर एक बार फिर कम होगा, इसलिए उन्हें तीसरी डोज (Booster Dose) दी जाए. भारत में सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंटलाइन वर्कर (Frontline Workers), 10 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्गों, और गंभीर बीमारियों (Comorbidity) के साथ जी रहे लोगों को कोरोना की एहतियाती खुराक (Precaution Dose) देने की शुरुआत आज से हो गई है.

Also Read:

एहतियाती खुराक के लिए शनिवार 8 जनवरी की शाम से कोविन पोर्टल (Co-Win Portal) पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शरू हो चुकी थी. आज यानी सोमवार 10 जनवरी से इन श्रेणी के लाभार्थियों को एहतियाती खुराक देकर उन्हें कोरोना की तीसरी लहर में गंभीर बीमारियों से बचाने की कवायद शुरू हो गई है. राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (NHM) के अतिरिक्त सचिव और मिशन निदेशक, विकास शील ने इस संबंध में शनिवार को एक ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने कहा, ‘स्वास्थ्य कर्मियों या अग्रिम मोर्चा कर्मियों और नागरिकों (60 से ऊपर) के लिए एहतियाती खुराक के लिए ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट (Online Appointment for Vaccination) की सुविधा अब कोविन पर शुरू है. अप्वाइंटमेंट बुक करें, कृपया कोविन पोर्टल पर जाएं.’

अपोलो अस्पताल के पल्मोनोलॉजिस्ट डॉ. निखिल मोदी का कहना है कि उपलब्ध डाटा और अध्ययनों के अनुसार स्वास्थ्यकर्मी, फ्रंटलाइन वर्कर और 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति व बीमारियों के साथ जी रहे लोगों को इस बूस्टर डोज से फायदा होगा. तीसरी लहर आ चुकी है, ऐसे में बूस्टर डोज बेहद महत्वपूर्ण है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार एहतियाती खुराक लेने के लिए नए पंजीकरण की कोई आवश्यकता नहीं है. लाभार्थी श्रेणी में आने वाले लोग शनिवार से सीधे अपॉइंटमेंट लेकर टीका लगवा सकते हैं. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 दिसंबर 2021 को घोषणा की थी कि 10 जनवरी से एहतियाती खुराक दी जाएंगी.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय का कहना है कि दूसरी वैक्सीन लेने के 9 महीने यानी 39 हफ्तों के बाद तीसरी यानी एहतियाती खुराक ली जा सकती है. यही नहीं मंत्रालय के अनुसार वरिष्ठ नागरिकों और गंभीर बीमारियों के साथ जी रहे लोगों को एहतियाती खुराक लेने के लिए अपने डॉक्टर से लिखित मंजूरी की भी आवश्यकता नहीं है.

एहतियाती खुराक के लिए पात्र लोगों को कोविन सिस्टम द्वारा एसएमएस के जरिए जानकारी दी जा रही है कि वे तीसरी खुराक ले सकते हैं. पात्र व्यक्ति ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं और चाहें तो वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर उसी समय भी रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने बताया कि 1 करोड़ से ज्यादा स्वास्थ्य और फ्रंटलाइन वर्कर व 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को एहतियाती खुराक के लिए एसएमएस भेजे गए हैं.

बता दें कि देश ने शुक्रवार को 151.57 करोड़ वैक्सीन का आंकड़ा पार कर लिया था. अभी तक देश की आबादी में 90 फीसद बालिग व्यक्ति कोविड19 की पहली खुराक ले चुके हैं.

(इनपुट – एजेंसियां)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 10, 2022 7:18 AM IST

Updated Date: January 10, 2022 7:30 AM IST