भुवनेश्वर: भारत ने बुधवार को ओडिशा तट पर एक टेस्ट फैसिलिटी से स्वदेशी बूस्टर के साथ एक विस्तारित-रेंज वाले सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस का सफलतापूर्वक परीक्षण किया. सूत्रों ने बताया कि मिसाइल को बालासोर जिले में ‘इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज ‘(आईटीआर) से एक मोबाइल लांचर से सुबह करीब 10.30 बजे लॉन्च किया गया.Also Read - Helina and Dhruvastra: भारत ने टैंक रोधी गाइडेड मिसाइलों Helina, ध्रुवास्त्र का सफल परीक्षण किया

भारत-रूस के संयुक्त उद्यम, ब्रह्मोस मिसाइल की मार करने की क्षमता लगभग 400 किलोमीटर है. ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने ट्वीट किया, “विस्तारित रेंज वाले ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के सफल परीक्षण पर डीआरडीओ को बधाई. स्वेदशी बूस्टर वाला मिसाइल भारत की रक्षा क्षमता को मजबूत करेगा.” Also Read - अपनों पर ही गिरी पाकिस्तान की 'परमाणु हथियार ले जाने वाली' मिसाइल, तबाह हो गए कई घर

यह दूसरी बार है जब ब्रह्मोस के विस्तारित-रेंज संस्करण का परीक्षण किया गया है. ब्रह्मोस मिसाइल को मूल रूप से 290 किलोमीटर की दूरी तक मार करने की क्षमता के साथ बनाया गया था. बता दें कि ब्रह्मोस मिसाइल को भारत और रूस ने मिलकर बनाया है. यह सुपरसॉनिक मिसाइल अपने अत्याधुनिक तकनीक से लैस है. Also Read - Indian Navy Day 2020: भारतीय नौसेना क्यों है धरती की सबसे दुर्जेय सेनाओं में से एक, देखें तस्वीरें

(इनपुट-आईएएनएस)