ब्रासीलिया: ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो ने अगले साल भारत के गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि बनने का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का निमंत्रण बुधवार को स्वीकार कर लिया. मोदी 11वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए यहां आये हुए हैं. मोदी ने इस शिखर सम्मेलन के इतर बोलसोनारो के साथ मुलाकात की. यह ब्रिक्स शिखर सम्मेलन आतंकवाद निरोधक सहयोग के लिए तंत्र बनाने पर ध्यान केंद्रित करेगा और दुनिया की पांच प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के साथ भारत के संबंधों को मजबूत करेगा.

ब्रिक्स विश्व की पांच उभरती अर्थव्यवस्थाओं का समूह है जिसमें ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं. दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए ‘‘सार्थक वार्ता’’ की. आधिकारिक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी ने बोलसोनारो को 2020 के गणतंत्र दिवस समारोह के लिए आमंत्रित किया. ब्राजील के राष्ट्रपति ने खुशी खुशी यह निमंत्रण स्वीकार कर लिया. बयान में कहा गया कि दोनों नेताओं ने सहमति व्यक्त की कि इस मौके पर दोनों देश रणनीतिक साझेदारी को व्यापक तरीके से बढ़ा सकते हैं.

बयान में कहा गया कि मोदी ने कहा कि वह व्यापार से संबंधित मामलों पर चर्चा के लिए उत्सुक हैं. मोदी ने ब्राजील से संभावित निवेश के क्षेत्रों का उल्लेख किया जिसमें कृषि उपकरण, पशुपालन, फसल कटाई तकनीक और जैव ईंधन के क्षेत्र आदि शामिल हैं. बयान में कहा गया कि ब्राजील के राष्ट्रपति ने गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने के लिए हामी भरी और प्रधानमंत्री मोदी को बताया कि उनके साथ एक बड़ा व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल भी भारत आएगा. दोनों नेताओं ने अंतरिक्ष और रक्षा क्षेत्रों सहित सहयोग के अन्य क्षेत्रों पर भी चर्चा की. मोदी ने भारतीय नागरिकों को वीजा मुक्त यात्रा की सुविधा देने के राष्ट्रपति बोलसोनारो के फैसले का स्वागत किया.