नई दिल्ली: भारत ने कोरोना वायरस की वैक्सीन विकसित करने की दिशा में पहला और बड़ा कदम बढ़ा दिया है. भारत की कंपनी भारत बायोटेक ने कोरोना वायरस की वैक्सीन विकसित कर ली है. इस वैक्सीन का नाम COVAXIN कोवैक्सिन है. इस वैक्सीन का मानवीय ट्रायल की अनुमति भी मिल गई है. Also Read - Supreme Court ने की मुंबई मॉडल की तारीफ, कहा-दिल्ली को इससे सीखना चाहिए, जानिए क्या

भारत सरकार ने इसकी अनुमति दे दी है. COVAXIN वैक्सीन का HUMAN TRIAL जुलाई में देश भर में शुरू होगा. नतीजों के आधार पर इस वैक्सीन को अपनाने पर फैसला होगा. Also Read - CoronaVirus 3rd Wave In India: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से पूछा-तीसरी लहर में बच्चे भी होंगे संक्रमित, क्या है आपकी तैयारी

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस की वैक्सीन पर दुनिया भर में काम चल रहा है. करीब 200 जगह पर वैक्सीन बनाने की कोशिश हो रही है. इनमें से 10 से भी कम देश मानवीय ट्रायल तक पहुंचे हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने एक दिन पहले ही कहा था कि वह 2021 के आखिर तक कोरोना वायरस वैक्सीन दुनिया को उपलब्ध करा देगा. Also Read - Lockdown In India: पूरे देश में 3 मई से 20 मई के बीच लगने जा रहा है फुल लॉकडाउन! क्या ये सच है...जानिए

इसी बीच भारत वैक्सीन विकसित कर इंसानों पर ट्रायल भी करना शुरू कर दिया है. अगर इसमें सफलता मिलती है तो भारत पहला देश होगा जो कोरोना वायरस की वैक्सीन विकसित कर कोरोना मरीजों का इलाज शुरू कर देगा. लगभग पूरी दुनिया वैक्सीन के इंतज़ार में है.