नई दिल्ली: भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने कहा कि अगले 48 घंटे में अरब सागर के ऊपर एक निम्न दबाव का क्षेत्र बनेगा और वह तीन जून तक गुजरात और उत्तर महाराष्ट्र के तटों की ओर बढ़ेगा. अरब सागर के ऊपर दो तूफान बन रहे हैं, जिसमें से एक अफ्रीकी तट से लगे समुद्र क्षेत्र के ऊपर है और वह ओमान व यमन की ओर बढ़ सकता है, जबकि दूसरा भारत के करीब है.Also Read - ISI Terror Module: ओसामा के चाचा ने प्रयागराज में सरेंडर किया, देश में पूरे आतंकी नेटवर्क को को-ऑर्डिनेट कर रहा था

इस घटनाक्रम की जानकारी ऐसे समय में सामने आई है, जब 10 दिन पहले बंगाल की खाड़ी से उठे चक्रवाती तूफान अम्फान के कारण बंगाल के चार जिलों में भारी तबाही हुई थी. इस तूफान में 86 लोगों की मौत हो गई थी और लाखों लोग बेघर हो गए थे. Also Read - Char Dham Yatra Guidelines: कल से शुरू हो रही है चारधाम यात्रा, दर्शन के लिए जरूरी है रजिस्ट्रेशन और ई-पास, जानिए डिटेल्स

आईएमडी ने अपने दैनिक बुलेटिन में कहा हे, “दक्षिण पूर्व-पूर्व मध्य अरब सागर के ऊपर अगले 48 घंटों के दौरान एक निम्न दबावा का क्षेत्र बनेगा. यह उसके अगले 48 घंटों के दौरान और तीव्र होकर डिप्रेशन में बदलेगा और उसके बाद और तीव्र हो सकता है. यह तीन जून तक गुजरात और उत्तर महाराष्ट्र तटों की ओर उत्तर-पश्चिमोत्तर की तरफ बढ़ेगा.” Also Read - Terror Module: महाराष्‍ट्र ATS- मुंबई पुलिस ने आतंकी मॉड्यूल से जुड़े एक व्‍यक्ति को मुंबई में हिरासत में लिया

एक निम्न दबाव क्षेत्र और एक डिप्रेशन आईएमडी के आठ श्रेणी के पैमाने पर प्रथम दो स्तर हैं. इस पैमाने का उपयोग तूफान को उसकी तीव्रता के आधार पर मामने में किया जाता है. मौसम ब्यूरो ने कहा कि अरब सागर के ऊपर संभावित निम्न दबाव के क्षेत्र के प्रभाव के कारण स्थितियां एक जून से केरल के ऊपर मॉनसून की शुरुआत के लिए अनुकूल होंगी.