नई दिल्ली: भारत में कोरोना वायरस संकट से निपटने के लिये जारी संघर्ष के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से चर्चा की. इस दौरान पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों से उनकी राय ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोविड-19 के कारण लागू 21 दिन के देशव्यापी लॉकडाउन को 14 अप्रैल से आगे बढ़ाया जाए. उन्होंने कहा कि अगर लॉकडाउन में ढील देनी है तो ट्रांसपोर्ट न खोलें. Also Read - Viral Video: ना दो गज की दूरी- ना मास्क, साड़ी की दुकान पर भारी भीड़, IPS बोले- यहां तो कोरोना भी घुसने से डरेगा...

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन 30 अप्रैल तक बढ़े और इस दौरान किसी तरह के ट्रांसपोर्ट की छूट न मिले. रेलवे से लेकर फ्लाइट और बसें सब बंद रहे. पीएम मोदी ने अरविंद केजरीवाल से कहा कि वे हर समय उपल्ध हैं. पीएम ने कहा कि कोरोना से मिलकर ही निपटा जा सकता है. Also Read - India Corona Updates: 24 घंटे में देश में कोरोना के 55 हजार से अधिक मामले, एक्टिव केस साढ़े सात लाख के नीचे

प्रधानमंत्री के साथ राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक सुबह 11 बजे शुरू हुई. ऐसे संकेत मिल रहे हैं कि केंद्र सरकार कुछ छूट के साथ देशव्यापी लॉकडाउन को बढ़ा सकती है. पंजाब और ओडिशा 14 अप्रैल के बाद लॉकडाउन को आगे बढ़ाने का पहले ही फैसला कर चुका है.

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राज्यों से विभिन्न पहलुओं को लेकर विचार मांगे हैं जिसमें यह पूछा गया है कि क्या कुछ अन्य श्रेणियों के लोगों और सेवाओं को छूट दिये जाने की जरूरत है. वर्तमान लॉकडाउन में केवल आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है.