Earthquake  in Delhi-NCR: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और इसके आसपास के इलाकों को में एक बार फिर भकंप के झटके महसूस किए गए. दिल्ली के अलावा हरियाणा के रोहतक में भूकंप महसूस किया गया. रोहतक में 11.55 मिनट पर भूकंप. आपको बता दें कि पिछले एक महीने में 12 बार से ज्यादा दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए जा चुके हैं. लगाता आ रहे भूकंप दिल्ली वासियों में किसी बड़ी अनहोनी का डर सताने लगा है. Also Read - मैक्सिको में भीषण भूकंप से भय का माहौल, 7.5 की तीव्रता, 4 लोगों की मौत

राजधानी दिल्ली और हरियाणा में महसूस किए गए भूकंप की रिक्टर स्केल पर तीव्रता 2.1 थी. फिलहाल अभी तक इस भूकंप में किसी भी तरह की अप्रीय घटना की सूचना सामने नहीं आई है. भूकंप के झटके महसूस होते ही सभी लोग अपने घरों से बाहर निकल आए. Also Read - भूकंप ने मिजोरम को हिलाया, सामने आईं भयावह फोटो, PM मोदी ने दिया मदद का भरोसा

देश में एक तरफ कोरोना वायरस से सामुदायिक संक्रमण का खतरा है तो वहीं दूसरी तरफ लगातार आ रहे भकंप के झटकों ने जनता को डरा कर रख दिया. लोगों को समझ में ही नही आ रहा है कि घर में सुरक्षित हैं या फिर घर के बाहर. Also Read - तीन दिन के अंदर दूसरी बार मिजोरम में आया भूकंप, सुबह चार बजे महसूस हुए झटके, रिएक्टर स्केल पर 5.3 की रही तीव्रता

भकंप के झटकों से जब सभी लोग घरों के बाहर आ रहे है तो ऐसे में कोरोना के संक्रमण का  फैलने का भी लोगों में डर है. लगातार आ रहे भूकंप के पीछे विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले वक्त में यह एनसीआर के लिए बड़े खतरे का संकेत है.

जानकार सभी को भूकंप से सतर्क रहने की सलाह दे रहे हैं. बताया जा रहा है कि दिल्ली-एनसीआर में धरती के अंदर प्लेटों के एक्टिव होने से ऊर्जा निकल रही है. लगातार भूकंप के झटकों को लेकर भी विशेषज्ञों में काफी विवाद है. कुछ का मानना है कि ये छोटे भूंकंप बड़े भूकंप की घटना को टाल रहे हैं वहीं कुछ लोगों का कहना है कि बार बार आ रहे छोटे भूकंप किसी बड़े भूकंप की ओर इशारा कर रहे हैं.