Former Assam CM Tarun Gogoi passes away: असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई का सोमवार को निधन गया. वे 86 साल के थे. ये जानकारी राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हेमंत बिस्व शर्मा ने दी. 84 वर्षीय कांग्रेस नेता का इलाज गौहाटी मेडिकल कॉलेज (जीएमसीएच) में चल रहा था. गोगोई का रविवार को छह घंटे तक डाय​लिसिस हुआ था और यह दोबारा विषाक्त चीजों से भर गया. Also Read - Magh Bihu 2021: माघ बिहू का पर्व आज, यहां जानें किस तरह मनाया जाता है यह त्योहार

असम के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके 86 साल के गोगोई को दो नवंबर को जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था. शनिवार को तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें शनिवार को वेंटिलेटर पर रखा गया था. गोगोई 25 अगस्त को कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये थे और इसके अगले दिन उन्हें जीएमसीएच में भर्ती कराया गया था. Also Read - सज्जन सिंह वर्मा ने लड़कियों की उम्र को लेकर दिया था विवादित बयान, अब NCPC ने भेजा नोटिस

इसके बाद 25 अक्टूबर को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी थी. गोगोई को 25 अक्टूबर को कोरोना से उबरने के बाद अस्पताल से छुट्टी मिली थी. उन्हें इलाज के दौरान प्लाज्मा थेरेपी दी गई थी. Also Read - Atmanirbhar Bharat: इस राज्य सरकार का अनोखा कदम, राज्य कर्मियों को दिए जाएंगे मुफ्त में खादी के कपड़े

तरुण गोगोई के निधन पर राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, “श्री तरुण गोगोई एक सच्चे कांग्रेसी नेता थे. उन्होंने अपना जीवन असम के सभी लोगों और समुदायों को एक साथ लाने के लिए समर्पित कर दिया. मेरे लिए, वह एक महान और बुद्धिमान शिक्षक थे. मैं उन्हें बहुत प्यार करता था और उनका सम्मान करता था. मैं उन्हें मिस करूँगा. गौरव और परिवार के प्रति मेरा प्यार और संवेदनाएं.”

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तरुण गोगोई के निधन पर शोक जताते हुए लिखा, “श्री तरुण गोगोई जी एक लोकप्रिय नेता और एक वयोवृद्ध प्रशासक थे, जिन्हें असम के साथ-साथ केंद्र में भी राजनीतिक अनुभव था. उनके निधन से दुखी हूं. दुख की इस घड़ी में मेरे विचार उनके परिवार और समर्थकों के साथ हैं. शांति.”