Nirbhaya Gang Rape Case: राजधानी दिल्‍ली में 16 दिसंबर 2012 को हुए निर्भया गैंग रेप और मर्डर के दोषियों को फांसी देने के लिए कोर्ट ने नया डेथ वारंट (fresh death warrant) जारी किया है. दिल्‍ली की अदालत ने नए डेथ वारंट के आदेश में अब चारों दोषियों की फांसी की नई तारीख मुकर्रर की है. इसके मुताबिक, चारों दोषियों – मुकेश सिंह (32), विनय शर्मा (26), अक्षय कुमार सिंह (31) और पवन गुप्ता (25) को अब 22 जनवरी की बजाय एक फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी.

बता दें कि दिल्ली की अदालत ने बीते सात जनवरी को इस मामले में पहले डेथ वारंट जारी करते हुए कहा था कि चारों दोषियों – मुकेश सिंह (32), विनय शर्मा (26), अक्षय कुमार सिंह (31) और पवन गुप्ता (25) को 22 जनवरी की सुबह सात बजे तिहाड़ जेल में फांसी दी जाएगी.

तिहाड़ जेल प्रशासन ने कोर्ट से नया डेथ वारंट जारी करने की मांग की थी
तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने आज ही कोर्ट से निर्भया मामले के चारों दोषियों के खिलाफ मौत की सजा पर अमल का फरमान (डेथ वॉरंट) फिर से जारी करने की मांग की थी.

मुकेश की दया याचिका राष्ट्रपति खारिज कर दी
अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सतीश कुमार अरोड़ा ने जेल प्रशासन से कहा कि वह अदालत को शाम साढ़े चार बजे तक यह बताएं कि निर्भया मामले के चार दोषियों में से एक मुकेश कुमार सिंह को यह सूचित किया गया है या नहीं कि राष्ट्रपति ने उसकी दया याचिका अस्वीकार कर दी है. लोक अभियोजक इरफान अहमद ने अदालत को बताया कि मुकेश की दया याचिका राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को अस्वीकार कर दी है.

फांसी सजा टालने का अनुरोध किया गया था
अदालत मामले में मौत की सजा पाए मुकेश कुमार सिंह की याचिका पर सुनवाई कर रही थी. इसमें उसने फांसी देने के लिए तय 22 जनवरी की तारीख टालने का अनुरोध किया था.

सिंगापुर के अस्पताल में निर्भया ने ली थी अंतिम सांस
दिल्‍ली में पैरामेडिकल की 23 वर्षीय छात्रा के साथ 16 दिसंबर 2012 में बर्बर सामूहिक बलात्कार की घटना हुई थी. छात्रा की 29 दिसंबर 2012 को सिंगापुर के अस्पताल में मौत हो गई थी.

केजरीवाल ने बयान पर पीड़िता की मां ने सवाल उठाए
दोषियों की फांसी में हो रही देरी पर आज ही मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बयान दिया था कि उनकी सरकार की तरफ से कोई देरी नहीं की गई. उनके इस बयान पर पीड़िता की मां ने सवाल उठाए हैं. वहीं, केंद्रीय मंत्री स्‍मृति ईरानी ने भी मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर हमला किया है.

मामले में कभी भी देरी नहीं की: अरविंद केजरवाल
बता दें कि सीएम अरविंद केजरवाल ने कहा, दिल्‍ली सरकार के अंतर्गत आने वाला सारा कार्य घंटों के अंदर ही कर लिया गया था. हमने इस मामले में कभी भी देरी नहीं की है. दिल्‍ली सरकार की इसमें कम भूमिका है. हम चाहते हैं कि दोषियों को जल्‍द से जल्‍द फांसी दी जाए.