नई दिल्ली: जामिया कांड में पुलिस की हुई छीछालेदर के बाद दक्षिण-पूर्वी जिले के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त कुमार ज्ञानेश का तबादला कर दिया गया है. सोमवार को दिल्ली सरकार के गृह विभाग द्वारा जारी स्थानांतरण सूची में दिल्ली पुलिस के 10 और अधिकारियों के नाम शामिल हैं. हालांकि दिल्ली पुलिस मुख्यालय इस स्थानांतरण सूची और कुमार ज्ञानेश के तबादले को ‘रुटीन’ मान रहा है. इस आशय की अधिकृत सूचना दिल्ली सरकार के गृह विभाग के उपसचिव (गृह-1) की ओर से सोमवार को जारी की गई. जारी स्थानांतरण आदेश में दिल्ली पुलिस के कुल 11 अधिकारियों के नाम दर्ज हैं. इन 11 नामों में पांच आईपीएएस और छह अधिकारी दानिप्स (दिल्ली, अंडमान एवं निकोबार द्वीप पुलिस) सेवा के हैं.

Jamia Violence: गृह मंत्रालय की सफाई- प्रदर्शन के दौरान पुलिस ने नहीं चलाई एक भी गोली

आदेश के मुताबिक, 2010 बैच के आईपीएस अफसरों में ब्रिजेंद्र कुमार यादव को डीसीपी (सुरक्षा) से हटाकर एडिश्नल डीसीपी-1 उत्तर-पश्चिम जिला बनाकर भेजा गया है. 2011 बैच के आईपीएस इंगित प्रताप सिंह को दक्षिण-पश्चिम जिले के एडिश्नल डीसीपी-1 के पद से हटाकर दक्षिण-पूर्वी जिले में भेजा गया है. जबकि दक्षिण-पूर्वी जिले में एडिश्नल डीसीपी-1 के पद पर तैनात दानिप्स सेवा के अफसर कुमार ज्ञानेश को हटाकर इंगित प्रताप सिंह के स्थान पर दक्षिण-पश्चिम जिले में तैनात किया गया है. उल्लेखनीय है कि कुमार ज्ञानेश जिस दक्षिण-पूर्वी जिले में एडीशनल डीसीपी-1 थे, वहीं 15 दिसंबर, 2019 रविवार को जामिया नगर और जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में खूनी संघर्ष हुआ था. दिल्ली पुलिस के अंदरूनी सूत्र बताते हैं कि बवाल के बाद दिल्ली पुलिस ने सामने आए तमाम सवालों से खुद को बचाने के लिए कुमार ज्ञानेश को तत्काल प्रभाव से जिले से हटा दिया है.

Jamia Violence: पुलिस ने 10 अपराधिक छवि वाले लोगों को किया गिरफ्तार, एक भी छात्र नहीं

हालांकि इस बारे में दिल्ली पुलिस मुख्यालय इन तमाम स्थानांतरण को ‘रुटीन’ ही मानता है. इसी तरह 2011 बैच के आईपीएस अधिकारी शंकर चौधरी को एडिश्नल डीसीपी पीसीआर से हटाकर डीसीपी यातायात का प्रभार दिया गया है. 2012 बैच के आईपीएस अधिकारी अभिषेक धानिया को डीसीपी यातायात से हटाकर एडीशनल डीसीपी-1 पूर्वी जिला बनाकर भेजा गया है. विक्रम हरीमोहन मीना (2015 बैच आईपीएस) को एडिश्नल डीसीपी दक्षिण-पश्चिम जिला से हटाकर डीसीपी यातायात बनाया गया है.

स्थानांतरित छह दानिप्स अधिकारियों की सूची में सबसे पहला नाम 1996 बैच की अधिकारी सुमन नलवा का है. इन्हें पुलिस प्रशिक्षण स्कूल द्वारका के प्रिंसिपल से हटाकर डीसीपी स्पेशल ब्रांच (खुफिया शाखा) के पद पर भेजा गया है. जबकि 1997 बैच के दानिप्स अफसर भीष्म सिंह को एडिश्नल डीसीपी-1 उत्तर-पश्चिम जिले से हटाकर डीसीपी साइबर (क्राइम ब्रांच) बनाया गया है. 2006 बैच के दानिप्स अधिकारी सुशील कुमार सिंह अब तक एडिश्नल डीसीपी-2 उत्तर पश्चिमी दिल्ली जिला तैनात थे. इन्हें सुरक्षा विंग का एडीशनल डीसीपी बनाया गया है. इसी तरह 2009 बैच के दानिप्स अधिकारी पवन कुमार को स्पेशल सेल के एडिश्नल डीसीपी पद से एडीशनल डीसीपी प्रधानमंत्री सुरक्षा भी दिया गया है. जबकि 2009 बैच के संदीप बयाला जोकि अब तक एडिश्नल डीसीपी प्रधानमंत्री सुरक्षा थे, को अब एडिश्नल डीसीपी पुलिस नियंत्रण कक्ष भी बनाया गया है.