नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी में आज से ‘नड्डा युग’ की शुरुआत हो गई है. अब तक कार्यवाहक अध्यक्ष की कुर्सी संभाल रहे जेपी नड्डा (Jagat Prakash Nadda) अब पूर्णकालिक अध्यक्ष बन गए हैं. उन्हें बीजेपी अध्यक्ष के रूप में निर्विरोध रूप से चुन लिया गया है. जेपी नड्डा 2022 तक पार्टी के अध्यक्ष बने रहेंगे. नड्डा बीजेपी के 14वें राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं.

अध्यक्ष चुने जाने के लिए भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेतृत्व की मैराथन बैठक बीजेपी मुख्यालय में चल रही थी. आज इसका फैसला भी हो गया, हालांकि पहले ही माना जा रहा था कि JP Nadda का ही बीजेपी अध्यक्ष बनना तय है. बीजेपी मुख्यालय पर अब तक अध्यक्ष रहे अमित शाह, राजनाथ सिंह सहित पार्टी के कई शीर्ष नेता मौजूद रहे. नड्डा के सामने शाह का शानदार रिकॉर्ड एक चुनौती के तौर पर रहेगा. अमित शाह के गृहमंत्री बनने के बाद से ही नया अध्यक्ष चुनने की कवायद शुरू हो गई थी. इस पद के लिए नड्डा को पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की पसंद के तौर पर देखा जा रहा है.

जेपी नड्डा 2019 के लोकसभा चुनाव में राजनीतिक रूप से महत्वपूर्ण राज्य उत्तर प्रदेश में भाजपा के चुनाव अभियान के प्रभारी थे जहां पार्टी को सपा और बसपा के महागठबंधन से कड़ी चुनौती थी. भाजपा ने उत्तर प्रदेश में 80 लोकसभा सीटों में से 62 पर जीत दर्ज की. आम चुनावों में भाजपा के लिए महत्वपूर्ण राज्य संभालने के अलावा नड्डा मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में कैबिनेट मंत्री थे. वह संसदीय बोर्ड के एक सदस्य रहे हैं जो कि पार्टी का निर्णय लेने वाला शीर्ष निकाय है.