Air India Express crash: केरल सरकार ने एयर इंडिया एक्सप्रेस विमान हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों को मुआवजा देने की घोषणा की है. इस विमान हादसे में अब तक अबतक 18 लोगों की मौत हो चुकी है. केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने शनिवार को इसकी घोषणा की. Also Read - Kerala Gold Smuggling Case: NIA ने निलंबित IAS अफसर शिवशंकर से 9 घंटे तक की पूछताछ

केरल के मुख्यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर कहा, “केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने कल करिपुर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हुए एयर इंडिया एक्सप्रेस दुर्घटना में मारे गए प्रत्येक यात्री के परिजनों को 10 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है.” इसके अलावा मुख्यमंत्री कार्यालय ने ये भी कहा कि दुर्घटना में मारे गए लोगों सहित सभी पीड़ितों का COVID टेस्ट कराया जाएगा. अब तक केवल एक पीड़ित का कोविड टेस्ट पॉजिटिव आया है. केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने कहा कि पीड़ितों के लिए मुआवजे के अलावा राज्य सरकार इस दुर्भाग्यपूर्ण विमान दुर्घटना में घायल सभी लोगों के इलाज का खर्च वहन करेगी, चाहे वे किसी भी अस्पताल में ही क्यों न हों. Also Read - लद्दाख गतिरोध: भारत-चीन ने जारी किया संयुक्त बयान, फ्रंटलाइन पर और जवान नहीं भेजेंगे दोनों देश, जारी रहेगी वार्ता

मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने यहां उच्च स्तरीय बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि करीब 18 लोगों की मौत हो गई और 149 का मलप्पुरम एवं कोझिकोड जिले के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है. बैठक में राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने भी हिस्सा लिया. विजयन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘राज्य सरकार ने मृतकों के परिजन को दस लाख रुपये बतौर मुआवजा देने का निर्णय किया है. जिन लोगों का उपचार चल रहा है उनका चिकित्सा खर्च राज्य सरकार उठाएगी.’’ मुख्यमंत्री ने बताया कि जिन 18 लोगों की मौत हुई है, उनमें 14 वयस्क हैं और चार बच्चे हैं. Also Read - कृषि विधेयकों पर चर्चा के दंरौन हंगामा, राजनाथ सिंह बोले- आज राज्यसभा में जो हुआ वो दुखद व शर्मनाक था

इससे पहले केंद्रीय विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने यहां कारीपुर हवाईअड्डे पर एअर इंडिया एक्सप्रेस हादसे में मारे गए लोगों को 10-10 लाख रुपए की अंतरिम राहत देने की शनिवार को घोषणा की. पुरी ने केंद्रीय मंत्री वी मुरलीधरन और सांसदों पी के कुन्हालीकुट्टी एवं एम के राघवन के साथ दुर्घटनास्थल का दौरा करने के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान घोषणा की कि हादसे में मारे गए लोगों को 10-10 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को दो-दो लाख रुपए और मामूली रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपए की अंतरिम राहत दी जाएगी.

विमान विशेषज्ञों ने शनिवार को कहा कि फिसलन भरा रनवे, तेज हवा, खराब मौसम की स्थिति और नियमित स्थान से आगे विमान का उतरना, ये सब मिलाकर एक घातक संयोजन हो सकते हैं, जिसके परिणामस्वरूप कोझिकोड में एयर इंडिया एक्सप्रेस की स्किडिंग हुई होगी. दुबई से उड़ान भरने वाला एयर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान शुक्रवार शाम कोझिकोड में उतरते समय रनवे से फिसल गया और नीचे गहरी घाटी में जा गिरा. इस दुर्घटना में दो पायलटों सहित करीब 18 लोग मारे गए.