नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने निर्भया मामले (Nirbhaya Gangrape Case) के दोषी विनय शर्मा (Vinay Sharma) की याचिका ख़ारिज कर दी है. विनय शर्मा ने ये कहते हुए याचिका दायर की थी कि वह मानसिक रूप से ठीक नहीं है और ऐसे में उसे फांसी नहीं दी जा सकती है. सुप्रीम कोर्ट ने इस याचिका पर बड़ा फैसला दिया है.

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने विनय शर्मा की इस याचिका पर कहा कि विनय शर्मा की मानसिक हालत ठीक है. ऐसे कोई संकेत नहीं मिले हैं जिससे ये कहा जा सके कि वह मानसिक रूप से ठीक नहीं है. विनय की दया याचिका राष्ट्रपति द्वारा खारिज की जा चुकी है. विनय ने इसी को लेकर याचिका दायर की थी. सुप्रीम कोर्ट ने इसे लेकर कहा कि मेडिकल रिपोर्ट कहती है कि विनय को दिमागी रूप से कोई दिक्कत नहीं है. वह दिमागी रूप से ठीक है.

बता दें कि फांसी से बचने के लिए निर्भया गैंग रेप और हत्या के चारों दोषी तरह तरह से हथकंडे अपना रहे हैं. दोषियों की दो बार फांसी टाली जा चुकी है. पटियाला हाउस कोर्ट ने फिलहाल नया डेथ वारंट जारी नहीं किया है. रोज मिल रहीं तारीखों को लेकर निर्भया की मां ने व्यवस्था पर निशाना साधा था. उन्होंने तारीखों को लेकर पटियाला हाउस कोर्ट में नारेबाजी भी कर दी थी.