नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोनावायरस के प्रकोप को रोकने के लिए देश भर में लागू लॉकडाउन से बाहर निकलने के अगले चरण पर 16 और 17 जून को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा करेंगे और इस दौरान अर्थव्यवस्था सहित कई मुद्दों पर चर्चा हो सकती है. यह जानकारी अधिकारियों ने शुक्रवार को दी. अधिकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जून को 21 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों से दोपहर 3 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए फोन से बात करेंगे. वहीं 17 जून को 15 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों मुख्यमंत्रियों से दोपहर 3 बजे बैठक करेंगे. Also Read - वैज्ञानिकों ने खोजा कोरोना से जुड़ी गंभीर बीमारियों से बच्चों को बचाने का रहस्य, जानिए क्या है इनका दावा  

बता दें कि भारत में हर दिन लगभग 10 हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. वहीं संक्रमितों का आंकड़ा 3 लाखर के पार हो चुका है. वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की सूची में भारत चौथे स्थान पर पहुंच गया है. Also Read - कोरोना महामारी के बीच फिल्म निर्माता बना रहे हैं ये प्लान, तापसी पन्नू की आगामी फिल्म से हो सकती है शुरुआत

इसी को ध्यान में रखते हुए पीएम मोदी मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में नई रणनीति पर चर्चा कर सकते हैं. यह 88 दिन में उनकी छठी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग होगी. हालांकि यह पहली बार होगा कि प्रधानमंत्री कोरोना संकट पर मुख्यमंत्रियों से अलग-अलग बात करेंगे. इससे पहले मोदी ने 11 मई को मुख्यमंत्रियों से बातचीत की थी, जिसके बाद लॉकडाउन 4.0 का ऐलान किया गया था.

बता दें कि कोविड-19 के बीच अनलॉक-1 के दौरान आम लोगों और कारोबारियों को कई तरह की छूट दी गई है ताकि लॉकडाउन से प्रभावित आर्थिक गतिविधियों को गति मिल सके. यह प्रधानमंत्री मोदी का राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ विचार विमर्श का छठा दौर होगा. प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ पिछला संवाद 11 मई को किया था. गृह मंत्री अमित शाह ने मई के अंतिम सप्ताह में टेलीफोन पर मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की थी.