नई दिल्ली: दिल्ली के सीलमपुर क्षेत्र में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में प्रदर्शनों के चलते 7 मेट्रो स्टेशनों- वेलकम, जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर के प्रवेश तथा निकास द्वार मंगलवार को बंद कर दिए गए. सीलमपुर इलाके में विरोध-प्रदर्शन के मद्देनजर उत्तर-पूर्व दिल्ली के सात मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार मंगलवार को बंद कर दिए गए.

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया, ”जोहरी एन्क्लेव और शिव विहार में प्रवेश और निकास द्वार बंद हैं. इन स्टेशनों पर मेट्रो ट्रेन नहीं रुकेगी.”

दोनों स्टेशन पिंक लाइन पर हैं. इससे पहले डीएमआरसी ने पिंक लाइन पर वेलकम, जाफराबाद, मौजपुर-बाबरपुर और गोकुलपुरी मेट्रो स्टेशनों और रेड लाइन पर सीलमपुर को बंद कर दिया.

दरअसल, यह कदम तब उठाया गया है, जब मंगलवार को पूर्वोत्तर दिल्ली के सीलमपुर इलाके में मंगलवार को संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ रैली निकाली गई जिस दौरान स्थानीय लोगों ने पुलिस पर पथराव किया.

भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े.

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) ने ट्वीट किया, ”वेलकम, जाफराबाद और मौजपुर-बाबरपुर मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद हैं. इन स्टेशनों पर ट्रेन नहीं रुकेंगी.”

बता दें कि मंगलवार को पूर्वोत्तर दिल्ली के सीलमपुर इलाके में मंगलवार को संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ रैली निकाली गई, जिस दौरान स्थानीय लोगों ने पुलिस पर पथराव किया. भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े.

सीलमपुर टी प्वाइंट पर लोग एकत्र हुए और दोपहर करीब बारह बजे विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ. प्रदर्शनकारियों ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और सरकार के विरोध में नारे लगाए.