Lockdown in West Bengal: बंगाल सरकार सरकार ताजा कोविड-19 (Covid-19) मामलों में बढ़ोतरी के चलते पूरे राज्य के कंटेनमेंट जोन और बफर जोन में 9 जुलाई से सख्त लॉकडाउन लगाने जा रही है. इसके अलावा राज्य सरकार उत्तर 24 परगना (North 24 Parganas) में 14 दिनों का टोटल लॉकडाउन (Total Lockdown) लागू कर रही है. अधिकारी ने बताया कि इन क्षेत्रों में केवल आवश्यक सेवाएं ही उपलब्ध कराई जाएंगी. साथ ही परिवहन सेवाएं निलंबित रहेंगी. राज्य में अब केवल ग्रीन जोन में ही छूट दी जाएगी. कंटेनमेंट जोन और बफर जोन में सभी निजी और सरकारी कार्यालय भी बंद रहेंगे.Also Read - Bengal News: सुप्रीम कोर्ट पहुंचा नंदीग्राम का 'संग्राम'- शुभेंदु अधिकारी की अपील; बंगाल से बाहर ट्रांसफर की जाए मामले की सुनवाई

अधिकारियों ने बताया, “बंगाल में कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए नौ जुलाई की शाम पांच बजे से कड़े लॉकडाउन को लागू करने के वास्ते निरूद्ध और बफर जोन को मिलाया जायेगा.” इससे पहले खबरें आईं कि पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में कोविड-19 संक्रमण के बढ़ रहे मामलों को देखते हुए इंग्लिश बाजार और ऑल्ड मालदा कस्बे में बुधवार से एक सप्ताह तक संपूर्ण लॉकडाउन जारी रहेगा. अधिकारियों ने बताया कि इस दौरान आवश्यक चीजों की बिक्री को छोड़कर बाकी सभी दुकानें बंद रहेंगी. Also Read - Bengal News: नंदीग्राम सीट पर शुवेंदु के निर्वाचन को चुनौती देने वाली ममता की याचिका पर अब 12 अगस्त को सुनवाई

अधिकारियों ने बताया कि दवाई की दुकानें खुली रहेंगी. उन्होंने बताया कि सड़कों पर निजी वाहन नहीं चलेंगे और सरकारी बसें गौड़ कन्या टर्मिनल से निकलने के बाद इन दो कस्बों में से किसी एक स्थान पर ही रूकेगी. अधिकारियों ने बताया कि साइकिल रिक्शा और ई-रिक्शा पर भी पूरी तरह पाबंदी रहेगी. Also Read - प्रख्यात अर्थशास्त्री अमित मित्रा बंगाल के वित्त मंत्री पद से दे सकते हैं इस्तीफा, जानिए क्या है वजह

हालांकि आपात स्थितियों के लिए कुछ रिक्शों को तीन तय स्थानों पर उपलब्ध कराया जाएगा. जिला मुख्यालय में इंग्लिश बाजार सुबह 11 बजे तक खुला रहेगा. मालदा में लाखों प्रवासी श्रमिक रहते हैं और अब तक यहां 859 मामले सामने आए हैं. इनमें से 331 का इलाज चल रहा है जबकि 524 लोगों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. जिले में चार लोगों की मौत हो गई. यह जिला भारत-बांग्लादेश सीमा पर है.