नई दिल्ली: ‘टूलकिट गूगल डॉक्यूमेंट’ मामले में दिशा रवि (Disha Ravi Bail) को पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) से जमानत मिल गई है. दिशा को एक-एक लाख रुपये के दो मुचलके पर जमानत दी गई है. पटियाला हाउस कोर्ट से दिशा रवि को राहत मिली है. दिशा रवि की जमानत को लेकर आज पटियाला हाउस कोर्ट में सुनवाई हुई, इसके बाद दिशा रवि (Disha Ravi) को बेल देने का फैसला सुनाया गया. दिशा रवि को एक लाख के निजी मुचलके पर बेल मिली है.दिशा रवि भारतीय पर्यावरण कार्यकर्ता हैं. Also Read - Toolkit Case: तिहाड़ से रिहा हुई दिशा रवि, कोर्ट ने जमानत देते हुए कहा था, 'सिर्फ इसलिए जेल नहीं भेजा जा सकता क्योंकि...'

दिशा रवि ने किसान आंदोलन को समर्थन दिया था. दिशा रवि ने एक टूलकिट (Disha Ravi Toolkit Case) शेयर की थी. इसके बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें बंगलुरु से अरेस्ट किया था. दिल्ली पुलिस ने दिशा रवि को 13 फरवरी को अरेस्ट किया था. नौ दिन बाद दिशा रवि को जमानत मिली है. दिल्ली पुलिस का आरोप था कि दिशा रवि ने अपने साथियों के साथ मिलकर किसान आंदोलन के जरिये देश में अशांति फैलाने की साजिश की थी. और ये साजिश टूलकिट के जरिये शेयर की गई थी. Also Read - टूलकिट' मामला: दिशा रवि को मिली बेल, अब शांतनु मुलुक ने भी मांगी अग्रिम जमानत

ये टूल किट अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) ने भी शेयर की थी, जो बाद में उन्होंने डिलीट कर दी थी.दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने आरोप लगाया था कि जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि टूलकिट मामले में पूछताछ के दौरान जवाब देने में आनाकानी कर रही है और उसने सारा दोष सह-आरोपी निकिता जैकब और शांतनु मुलुक पर मढ़ दिया. पुलिस ने कहा कि मामले में सह-अभियुक्त शांतनु को नोटिस दिया गया. इस नोटिस के बाद शांतनु से भी पूछताछ की गई. इनका आमना-सामना भी कराया गया. Also Read - Toolkit Case: अदालत ने जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेजा