जम्मू: जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले में सोमवार को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर पाकिस्तानी सेना की ओर से की गई भारी गोलाबारी में बीएसएफ का एक अधिकारी शहीद हो गए और एक नागरिक की भी मौत हो गई. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि छह जवानों समेत 11 लोग घायल हो गए हैं.  अधिकारियो ने बताया कि पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना के संघर्ष विराम उल्लंघन में बीएसएफ के एक अधिकारी शहीद हो गए. उनके अनुसार सोमवार दोपहर में शाहपुर उप सेक्टर के एक गांव में एक घर के नजदीक एक गोला गिरने से सोबिया (पांच) की मौत हो गई और दो अन्य घायल हो गए. वहीं, एनएनआई ने 13 लोगों के घायल होने की खबर दी है.

पुलवामा में सुरक्षा बलों को मिली बड़ी सफलता, एनकाउंटर में लश्कर के 4 आतंकी ढेर

अंतिम खबर आने तक देगवार शाहपुर, केरनी, कृष्णा घाटी, मनकोटे, गुलपुर और पुंछ उप संभागों में पाकिस्तानी सेना की ओर से गोलाबारी जारी है. सोमवार लगातार चौथा दिन था जब पाकिस्तान ने पुंछ और राजौरी जिलों में संघर्षविराम का उल्लंघन किया. भारी गोलाबारी में छह घरों को नुकसान पहुंचा है. पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर रिहायशी क्षेत्रों को भारी हथियारों और मोर्टार बमों से निशाना बनाया. स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल है. अधिकारियों के अनुसार दिन में इससे पहले मानकोट में भीषण गोलाबारी में तीन नागरिक मोहम्मद शरीफ माग्रे, हनीफा बी और शौकत हुसैन और सेना के एक जवान घायल हो गए. सेना का जवान अग्रिम चौकी की सुरक्षा में लगा था.

सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि पाकिस्तान ने पुंछ जिले में शाहपुर और करनी सेक्टरों में नियंत्रण रेखा पर मोर्टार से गोलाबारी कर और गोलीबारी कर सुबह सात बजकर 40 मिनट पर संघर्षविराम का उल्लंघन किया. कासबा, मनकोट, करनी, गुंटारियां और शाहपुर गांवों में मोर्टार दागे गए. लोग अपने घरों में कैद रहे. एहतियात के तौर पर गोलाबारी प्रभावित क्षेत्रों में सभी विद्यालय बंद कर दिए गए हैं.