नई दिल्ली: लोकसभा में बसपा की एक सदस्य ने अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग समुदाय के लिए विभिन्न संस्थानों में आरक्षण के रिक्त पदों को तत्काल भरने तथा 2021 में जाति आधारित जनगणना कराने की मांग की. Also Read - #Lockdown: घर में रोटियां बनाकर समय काट रही Big Boss फेम ये एक्ट्रेस, लोग बोले- यही देखना बाकी था

निचले सदन में इस मुद्दे को उठाते हुए बसपा की संगीता आजाद ने कहा कि विभिन्न संस्थाओं में अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग समुदाय के काफी पद रिक्त हैं. कई संस्थानों में आरक्षण के प्रावधानों को ठीक ढंग से लागू नहीं किया गया है. Also Read - Ramayana फिर शुरू, पहले एपिसोड में 'राम-सीता' को देख लगे जयकारे, घरों का ऐसा रहा नज़ारा

उन्होंने कहा कि विशेष अभियान चलाकर इन रिक्त पदों को भरा जाए. बसपा सांसद ने कहा कि अनुसूचित जाति, जनजाति, अन्य पिछड़ा वर्ग समुदाय के मेधावी छात्रों को सामान्य वर्ग के तहत भी स्थान दिया जाना चाहिए. आजाद ने कहा कि 2021 में जाति जनगणना करायी जाए और इसके अनुपात में ही आरक्षण दिया जाए. Also Read - भारतीय शॉटपुट एथलीट डोप टेस्ट में हुआ फेल, लगा 4 साल का बैन

उन्होंने कहा कि न्यायपालिता एवं विधानसभाओं में आरक्षण के प्रावधानों को लागू किया जाए. उन्होंने कमजोर वर्गो को मानकों के अनुरूप छात्रवृत्ति देने की भी मांग की.

 

(इनपुट-एजेंसी)