नई दिल्ली: दक्षिणी दिल्ली के बुराड़ी इलाके में चुंडावत परिवार से प्राप्त रजिस्टर में ‘भटकती आत्मा’ का जिक्र है. उसमें साथ ही आशंका जाहिर की गई है कि परिवार अगली दीवाली नहीं देख सकेगा. रजिस्टर में 11 नवंबर , 2017 की तारीख में ललित ने परिवार के ‘कुछ हासिल’ करने में विफल रहने के लिए ‘किसी की गलती’ का जिक्र किया है. वहीं, बुराडी में एक घर में 11 सदस्यों के मृत मिले परिवार के मामले में दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा और फोरेंसिक टीम की आगे की जांच के लिए मौके पर पहुंची और यहां का जायजा लिया.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मृतकों में से एक ललित सिंह चुंडावत के शरीर में कथित तौर पर उसके पिता की आत्मा आती थी और इसके बाद वह अपने पिता की तरह हरकतें करता था और नोट लिखवाया करता था. उसमें कहा गया है, ” धनतेरस आकर चली गई. किसी की पुरानी गलती की वजह से कुछ प्राप्ति से दूर हो. अगली दीवाली न मना सको. चेतावनी को नजरंदाज करने की बजाय गौर किया करो.”

दिल्ली: बुराड़ी में एक ही घर में 11 लाशें, पुलिस को घर में मिले रहस्यमयी नोट्स, मामला और उलझा
क्राइम ब्रांच की टीम और फोरेंसिक टीम मौके पर पहुंची
बुराडी में 11 सदस्यों के मृत मिले परिवार के मामले में दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा और फोरेंसिक टीम की आगे की जांच के लिए घटनास्थल वाले घर पर पहुंची और यहां का जायजा लिया.

 200 लोगों से हो चुुुकी पूछताछ
बीते 1 जुलाई उत्तरी दिल्ली के बुराड़ी में हुई चुंडावत परिवार के 11 लोगों की मौत के सिलसिले में पुलिस 200 से ज्यादा लोगों से पूछताछ कर चुकी है. एक ही घर में 11 लोगों की रहस्यमयी मौत का मामला उलझता जा रहा है. इस मामले की दिल्ली क्राइम ब्रांच कर रही. वहीं, दिल्ली पुलिस को इस मामले में अब तक कई उलझाने वाले सबूत मिले हैं. इसने पूरे मामले को और गहरा दिया है.

दिल्ली में एक ही घर में 11 शव मिले, इनमें 7 महिलाओं के, सभी के मुंह और आंखों पर बंधी है पट्टी

(इनपुट-एजेंसी)