नई दिल्ली। देश के आठ राज्यों में 10 विधानसभा सीटों पर हुए  उपचुनाव के नतीजे आ चुके हैं. बीजेपी ने हालिया विधानसभा चुनाव में मिली जीत का सिलसिला जारी रखते हुए पांच सीटें जीत लीं. सबसे बड़ा झटका आम आदमी पार्टी को लगा है जिसने दिल्ली की राजौरी गार्डन सीट गंवा दी. हालांकि कांग्रेस ने अपनी साख बचाते हुए कर्नाटक में दोनों सीटें जीत लीं. वहीं, झारखंड की एक सीट जेएमएम के खाते में गई है.

दिल्ली में आप को झटका

दिल्ली की राजौरी गार्डन सीट पर बीजेपी ने बड़ी जीत हासिल की. यहां आम आदमी पार्टी तीसरे नंबर पर रही. बीजेपी-अकाली उम्मीदवार मनजिंदर सिरसा ने (40602) कांग्रेस उम्मीदवार मीनाक्षी चंदेला ( को 14952 वोटों से हराया. यहां आप उम्मीदवार हरजीत सिंह (10243) की जमानत ही जब्त हो गई, जबकि ये सीट उसके ही विधायक जरनैल सिंह के सीट छोड़ने की वजह से खाली हुई थी.

हिमाचल-असम

हिमाचल प्रदेश की भोरंज सीट पर बीजेपी उम्मीदवार डॉ. अनिल धीमन ने कांग्रेस उम्मीदवार प्रमिला देवी को करीब 8 हजार वोटों से हराया. असम की धेमाजी सीट भी बीजेपी ने जीती. यहां बीजेपी उम्मीदवार रनोज पेगु ने कांग्रेस उम्मीदवार बाबुल सोनोवाल को करीब 9 हजार वोटों से हराया.

राजस्थान-झारखंड 

राजस्थान की धौलपुर सीट पर बीजेपी उम्मीदवार शोभा रानी (91548 वोट) ने निकटतम कांग्रेस उम्मीदवार बनवारी लाल शर्मा (52875 वोट) को बड़े अंतर से हरा दिया. झारखंड के लिट्टीपारा विधानसभा सीट पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार साइमन मरांडी (65551 वोट) ने बीजेपी उम्मीदवार हेमलता मुर्मु (52651) को बड़े अंतर से हरा दिया.

मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश में भड जिले की अटेर सीट पर कांटे की टक्कर हुई. यहां छठे राउंड तक बीजेपी उम्मीदवार अरविंद सिंह भदोरिया और कांग्रेस उम्मीदवार हेमंत कटारे दोनों करीब 17 हजार वोट हासिल कर चुके थे. सातवें राउंड तक कटारे ने बढ़त बनानी शुरू कर दी थी. 16वें राउंड तक कटारे ने भदोरिया पर निर्णायक बढ़त ले ली थी. अंत तक लीड बरकरार रही, लेकिन आखिरी राउंड में अंतर हजार से भी कम रहा. 21वें राउंड की गिनती के बाद कटारे को 59228 और भदोरिया को 58371 वोट मिले.  वहीं बांधवगढ़ में सर्वनारायण सिंह उर्फ लल्लू भैया ने कांग्रेस उम्मीदवार सावित्री सिंह को करीब 23 हजार वोटों से हरा दिया.

प. बंगाल-कर्नाटक

वहीं, पश्चिम बंगाल की कांथी दक्षिण में टीएमसी की उम्मीदवार चंद्रिमा भट्टाचार्य (95369) ने सुरेंद्र मोहन जेना (52843) को बड़े अंतर से हराया. कर्नाटक की गुंडलपेट सीट पर एमसी मोहन कुमार उर्फ गीता बीजेपी उम्मीदवार सीएस निरंजन कुमार से करीब 11 वोटों से आगे हैं. नंनजनगढ़ सीट पर भी कांग्रेस आगे है. कांग्रेस उम्मीदवार के केशवमूर्ति (86212) ने बीजेपी उम्मीदवार श्रीनिवासन प्रसाद (64878) को हरा दिया.

इसलिए खाली हुईं सीटें

ये सभी सीटें अलग-अलग कारणों से खाली हुई थीं. झारखंड के लिट्टीपाड़ा विधानसभा सीट झामुमो के विधायक डॉ अनिल मुर्मू के निधन के कारण खाली हुई है. धौलपुर से पिछले चुनाव में जीते बी एल कुशवाहा को हत्या के मामले में सजा होने की वजह से ये सीट ख़ाली हुई. कर्नाटक की नंजनगढ़ सीट इसलिए खाली हुई क्योंकि कांग्रेस के मशहूर नेता और नंजनगढ़ के विधायक वी. श्रीनिवास प्रसाद ने दिसंबर में इस सीट से इस्तीफा देकर बीजेपी जॉइन की, जिसके बाद उपचुनाव की स्थिति पैदा हुई.

असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के अपने संसदीय सीट से इस्तीफा देने के बाद भारतीय जनता पार्टी के विधायक प्रधान बरुआ के लखीमपुर निर्वाचन क्षेत्र से संसद सदस्य चुने जाने के बाद यहां उप चुनाव जरूरी हो गया था. दिल्ली की राजौरी गार्डन सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक जनरैल सिंह ने पंजाब विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए इस्तीफा दे दिया था जिस वजह से यहा उपचुनाव की जरूरत पड़ी.