नई दिल्लीः नागरिकता संशोधन कानून को लेकर पिछले एक महीनें से विरोध प्रदर्शन जारी है. गुरुवार को भी कई राज्यों में इसको लेकर विरोध प्रदर्शन किए गए. वहीं उत्तर प्रदेश में नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन व्यापक होता जा रहा है. नागरिकता कानून के विरोध को देखते हुए शुक्रवार यानि आज जुमे की नमाज से पहले प्रदेश भर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. इसी के मद्देनजर राज्य के लगभग 14 जिलों में इंटरनेट सेवा पूरी तरह से बंद कर दी गई है.

जिन ज़िलों में इंटरनेट सेवा बंद है उनमें ग़ाज़ियाबाद, बुलंदशहर, आगरा, संभल, मुज़फ़्फ़रनगर, बिजनौर, सहारनपुर, फिरोज़ाबाद, अलीगढ़, मथुरा, शामली, कानपुर, सीतापुर और मेरठ शामिल है. पिछले शुक्रवार को राज्य के कई बड़े शहरों में उग्र विरोध प्रदर्शन देखने को मिला था. इसलिए सरकार इस बार घटना की कोई गुंजाइश नहीं छोड़ना चाहती. आपको बता दें कि राज्य सरकार ने पहले से ही धारा 144 लगा रखी है.

शुक्रवार को जुमें की नमाज को देखते हुए अलर्ट जारी किया गया है. उधर पुलिस प्रशासन ने इस विरोध प्रदर्शन में हुए नुकसान की भरपाई के लिए कर्रवाई शुरू कर दी है. सरकार ने हिंसा फैलाने वाले उद्रवियों की पहचान कर उन्हें नोटिस भेजना शुरू कर दिया है. बता दे कि अभी तक 350 से अधिक लोगों को नोटिस भेजा जा चुका है और एक हजार से अधिक लोगो को गिरफ्तार किया गया है.