Live Updates

  • 8:22 PM IST

  • 8:22 PM IST
    दिल्ली पुलिस पीआरओ एमएस रंधावा ने कहा कि जामा मस्ज़िद में सुबह से ही शांतिपूर्ण प्रदर्शन चल रहा था. शाम करीब 6 बजे कुछ बाहरी लोग प्रदर्शनकारियों के बीच घुसे और पथराव करना शुरू कर दिया. इसके बाद पुलिस को वाटर केनन का इस्तेमाल करना पड़ा. हमने भीड़ को पीछे धकेला. कुछ पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. जबकि कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है.
  • 8:16 PM IST
    मैं प्रदर्शन करने वालों के साथ हूं: प्रियंका गांधी
  • 8:16 PM IST

    केंद्र सरकार देश को कहाँ ले जा रही है: प्रियंका गांधी

  • 8:15 PM IST

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने कहा कि नागरिकता क़ानून गरीबों के खिलाफ है.

  • 8:14 PM IST

    इंडिया गेट पर प्रदर्शनकारियों की भारी भीड़ जमा है. प्रियंका गांधी प्रदर्शनकारियों से इंडिया गेट पर मिलने पहुंची.

  • 8:12 PM IST

    दिल्ली के जाफराबाद में लोग पुलिसकर्मियों को चाय बाँट रहे हैं. जाफराबाद में बवाल हुआ था.

  • 8:09 PM IST

  • 7:29 PM IST

    गाज़ियाबाद में कल सुबह 10 बजे तक इंटरनेट बंद रहेगा. सभी स्कूल भी बंद रहेंगे.

  • 7:28 PM IST

    मौतों की पुष्टि उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने की है.

नई दिल्लीः नागरिकता कानून बिल के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है. एक इनपुट के अनुसार पुलिस को सूचना मिली थी कि शुक्रवार को बड़ा उग्र प्रदर्शन होने की संभावना है जिसके चलते प्रसाशन ने सीलमपुर में पुलिस की 10 कंपनियां तैनात की गई. इस बीच यह राहत की खबर है कि गुरुवार को बंद किए गए मेट्रो स्टेशनों में ज्यादातर स्टेशन शुक्रवार को खोल दिए गए.

विरोध प्रदर्शन के कारण दिल्ली में में अभी भी जसोला विहार मेट्रो स्टेशन और जामिया मिलिया मेट्रो स्टेशन को पूरी तरह से बंद रखा गया था लेकिन दोपहर तक इन्हें भी खोल दिया गया. दिल्ली में 12 थानों में धारा 144 लागू  कर दी गई है.


शुक्रवार को भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर मार्च निकालना चाहते थे लेकिन पुलिस की तरफ से उन्हें इस मार्च की इजाजत नहीं दी गई. पुलिस को ऐसा अंदेशा था कि उनके इस मार्च में कई यूनिवर्सिटी के छात्र भी शामिल हो सकते हैं.


दिल्ली ही नहीं बल्की पूरे देश में नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं. यूपी में लखनऊ में प्रदर्शन को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. पूरे लखनऊ को कई भागों में बांटा गया है. शुक्रवार सुबह से यूपी के कई शहरों में इंटरनेट और एसएमएस सेवा पूरी तरह से बंद कर दी गई. संभल, अलीगढ़, मेरठ, गाजियाबाद, लखनऊ, देवबंद, मऊ समेत कुछ अन्य जिलों में मोबाइल इंटरनेट बंद है. गुरुवार की हिंसा के खिलाफ यूपी पुलिस ने लगभग 150 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. समाजवादी पार्टी नेता शफिकुर रहमान और फिरोज खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है.

अगर दक्षिण की बात करे तो कर्नाटक में भी शुक्रवार को नागरिकता बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ. बेंगलुरू में पुलिस ने धारा 144 लगाई है. आपको बता दें कि गुरुवार को यहां प्रदर्शन के दौरान दो लोगों की मौत हो गई थी.

बिहार में राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी 21 दिसबंर को नागरिकता कानून के विरोध में बिहार बंद करेगी.

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन की बैठक हुई. इस बैठक में ओवैसी ने कहा कि हम इस बिल का विरोध करेंगे लेकिन अगर किसी भी प्रकार की हिंसा हुई तो हम खुद को इससे अलग कर लेगें.