नई दिल्ली:  नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में पूर्वोत्तर राज्य से शुरू हुआ हिंसक प्रदर्शन रविवार को राजधानी दिल्ली तक पहुंच गया. रविवार को जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी में भड़की हिंसा के बाद दिल्ली के लगभग 13 मेट्रो स्टेशनों को बंद कर दिया गया था. प्रशासन ने कानून व्यवस्था को बनाए रखने और हिंसा अधिक न फैले इसे ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया था. बंद किए गए 15 मेट्रो स्टेशनों को सोमवार की सुबह खोल दिया गया. सभी स्टेशन पर सेवाएं पहले की तरह शुरू कर दी गई हैं. जामिया में हुए इस प्रदर्शन की आग देश के अलग-अलग राज्यों में भी फैलने लगी है.

आइए जानते हैं नागरिका संशोधन के विरोध से जुड़ी 10 बड़ी बातें-

– प्रदर्शन को देखते हुए जामिया प्रशासन की तरफ से 5 जनवरी तक छुट्टी का ऐलान किया गया है.

– पुड्डुचेरी यूनिवर्सिटी में छात्रों ने क्लास बायकॉट करने का ऐलान किया है.

– नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन को देखते हुए पश्चिम बंगाल, मालदा, मुर्शिदाबाद, उत्तर दिनाजपुर, हावड़ा में इंटरनेट की सुविधा को बंद किया गया है.

– रविवार को हुए प्रदर्शन के बाद दिल्ली में कई स्कूलों को बंद किया गया है. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस बारे में जानकारी दी. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि दिल्ली में साउथ ईस्ट जिले में ओखला, जामिया, न्यू फ्रैंड्स कालोनी, मदनपुर खादर क्षेत्र के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल सोमवार को बंद रहेंगे.

– नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ जामिया छात्रों ने जो प्रदर्शन किया और बाद में पुलिस ने जो कार्रवाई की, अब इस मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग में शिकायत दर्ज हो गई है. ये शिकायत पुलिस के खिलाफ दर्ज कराई गई है.

– जामिया में प्रदर्शन के बाद मुंबई के टाटा इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल साइंस के छात्र भी आज CAA के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. नॉर्थ ईस्ट और दिल्ली में जिस तरह का प्रदर्शन हुआ, उसके बाद देशभर की यूनिवर्सिटी के छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं.

– दिल्ली के जामिया में हुई हिंसा के बाद बढ़े तनाव के बीच अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में भी देर शाम बड़ी संख्या में छात्रों ने जबरदस्त हंगामा और पथराव किया. हालात के मद्देनजर विश्वविद्यालय को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारी छात्र विश्वविद्यालय के बाब-ए-सर सय्यद गेट पर एकत्र हुए और जगह-जगह लगाई गई बैरिकेडिंग तोड़ डाली और पथराव किया. पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस का भी इस्तेमाल किया.

– हैदराबाद यूनिवर्सिटी में भी इस प्रदर्शन के मद्देनजर विश्वविद्यालय को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक सैकड़ों की संख्या में प्रदर्शनकारी छात्र विश्वविद्यालय के बाब-ए-सर सय्यद गेट पर एकत्र हुए और जगह-जगह लगाई गई बैरिकेडिंग तोड़ डाली और पथराव किया. पुलिस ने उन्हें रोकने के लिए लाठीचार्ज किया और आंसू गैस का भी इस्तेमाल किया. हैदराबाद की मौलाना आजाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स ने परीक्षा को बायकॉट करने का ऐलान किया है.

– इस प्रदर्शन ने बिहार की राजधानी पटना (Patna) को भी अपनी चपेट में ले लिया. पटना के कारगिल चौक पर कई घंटों तक प्रदर्शनकारियों ने बवाल काटा. प्रदर्शन कर रही भीड़ ने इस दौरान पुलिस और पत्रकारों को निशाना बनाया. भीड़ ने दो पुलिस पोस्ट फूंक दीं. साथ ही कई वाहनों में तोड़फोड़ कर आग के हवाले कर दिए. इस दौरान भीड़ ने पुलिस पर पथराव भी किया.

– इस बिल के पास होने के जारी विरोध प्रदर्शनों के मद्देनजर असम के गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ में अनिश्चिकाल के लिए कर्फ्यू लगा दिया गया.