नई दिल्ली: देश में गृह मंत्रालय की ओर से देश में आगामी दो हफ्ते तक लॉकडॉउन बढ़ाए जाने के बाद रेलवे ने शुक्रवार को कहा कि उसकी सभी यात्री रेल सेवाएं 17 मई तक स्थगित रहेंगी. इस दौरान हालांकि बंद के कारण फंसे प्रवासियों और अन्य लोगों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने के लिए विशेष ट्रेनों का संचालन किया जाएगा. Also Read - केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला- दिल्ली के अस्पताल में दिल्लीवासियों का होगा इलाज, बाहरी लोगों का नही

दरअसल, रेलवे मिनिस्‍ट्री का बयान आया है कि मई 17 तक सभी यात्री ट्रेन सेवाओं को रद्द कर दिया गया. श्रमजीवी विशेष ट्रेनों द्वारा किए जाने वाले विभिन्न स्थानों पर फंसे प्रवासी श्रमिकों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य व्यक्तियों का आवागमन के अतिरिक्‍त माल ढुलाई और पार्सल ट्रेन परिचालन जारी रहेगा. Also Read - अफगानिस्तान के शीर्ष क्रिकेटरों ने काबुल में शुरू किया अभ्यास

रेलवे ने एक बयान में कहा, ” कोविड-19 के मद्देनजर उठाए गए कदमों को जारी रखते हुए यह फैसला लिया गया है कि भारतीय रेलवे की सभी यात्री ट्रेन सेवाओं का संचालन 17 मई 2020 तक रद्द रहेगा. हालांकि, विभिन्न स्थानों पर फंसे हुए प्रवासी कामगारों, तीर्थयात्रियों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य लोगों की आवाजाही ‘श्रमिक विशेष ट्रेन’ के माध्यम से सुनिश्चित की जाएगी जैसा की राज्य सरकारों की जरूरत हो. इस दौरान गृह मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अनुपालन किया जाएगा.”

रेलवे के इस बयान में कहा गया कि मालगाड़ियों का संचालन अभी की तरह जारी रहेगा. सरकार ने शुक्रवार को लॉकडाउन 17 मई तक बढ़ाने की घोषणा की है.